Palamu

पलामू। अपराध और वहशीपन से दरिंदों ने समाज को दहला दिया है। झारखंड के पलामू जिले में दरिंदों ने दिल दहला देने वाली वारदात को अंजाम दिया है। दरिंदों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं। जिले में स्थानीय भारतीय जनता पार्टी के नेता की 16 वर्षीय बेटी की निर्मम हत्या कर दी गई है। हत्या से पहले उसका बलात्कार हुआ, फिर उसकी आंख निकाली गई। बलात्कार और दरिंदगी का छिपाने के लिए मामले को आत्महत्या का रूप दे दिया गया। दरिंदों ने लाश को पेड़ से लटका दिया। पुलिस ने प्रदीप कुमार सिंह नाम के आरोपी को गिरफ्तार किया है। यह वारदात 7 जून की बताई जा रही है जब पीड़िता दिन में 10 बजे घर से बाहर गई थी। जब पीड़िता वापस नहीं आई तो घरवालों ने सोमवार को अपनी तरफ से तलाशी शुरू कर दी। इसके बाद पांकी थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई। पुलिस पीड़िता को ढूंढने का प्रयास कर ही रही थी कि बुधवार को उन्हें लालीमाटी जंगल में पेड़ से लटका उसका लाश मिला। इस बारे में लड़की के पिता ने कहा है कि उनकी चार बेटी व एक बेटा है। इसमें हत्यारे ने एक बड़ी बेटी की हत्या कर दी।

पुलिस ने मौके से एक मोबाइल फोन बरामद किया है। उस मोबाइल फोन के आधार पर ही प्रदीप की गिरफ्तारी हुई है। पांकी के थाना प्रभारी अशोक कुमार ने बताया कि पीड़िता के परिजनों ने गायब होने से संबंधित गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया था। पुलिस छानबीन में जुटी थी। जंगल से शव बरामद कर लिया गया है। प्रथम दृष्टया में लगता है कि उसकी हत्या करने के बाद आत्महत्या का रूप देने के लिए हत्यारों ने उसे पेड़ के सहारे फंदे से लटका दिया है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट का अभी इंतजार है। पिता ने कहा है कि उनकी बेटी का सामूहिक दुष्कर्म हुआ है। बलात्कार के बाद उसकी आंख भी फोड़ दी गई। पीड़िता के पिता ने खुद ही अपनी बेटी को मुखाग्नि दी है। गांव के श्मशान घाट में ही अंतिम संस्कार किया गया है।

ये भी पढ़ेंःबलात्कार और इसकी कोशिश में फर्क नहीं जानते तो ऐसे जज को मिलनी चाहिए पॉक्सो कानून की ट्रेनिंग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here