कांग्रेस के बाद ओवैसी ने PM पर बोला हमला, कहा- संबोधन में चीन पर बोलना था, ‘चना’ पर बोल गए

0
122
Owaisi on pm modi

मंगलवार को देश के नाम PM मोदी का होने वाला संबोधन तो खत्म हो गया है. लेकिन इस पर बहस अभी भी जारी है. सोशल मीडिया के जरिए अलग-अलग पार्टियां पीएम मोदी के संबोधन में नुस्ख निकालने के साथ ही ये बताने में लगी हैं कि आखिर आज के संबोधन में उन्हें किस चीज का जिक्र करना चाहिए था, लेकिन उन्होंने किया नहीं? इसी बीच अब ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की ओर से भी पीएम मोदी (PM Modi) पर तंज कसा गया है. उन्होंने कहा है कि, आज बोलना चीन (China) पर था, लेकिन बोल चना पर गए. दरअसल आज के संबोधन में लोग ये उम्मीद लगाए बैठे थे कि शायद मोदी जी भारत-चीन (India-China) के बीच चल रहे विवाद का जिक्र करेंगे. लेकिन दोनों देशों को लेकर उनकी ओर से कुछ भी कहा नहीं गया, इसी को लेकर अब ओवैसी ने हमेशा की तरफ पीएम पर हमला बोला है.

ये भी पढ़ें:- संबोधन खत्म होते ही कांग्रेस ने PM को घेरा, कहा- चीन का जिक्र करने से भी मोदी डरते

ओवैसी ने अपने ऑफिशियल टि्वटर हैंडल (Owaisi twitter) से मौजूदा सरकार पर निशाना साधते हुए एक ट्वीट किया है. जिसमें उन्होंने बकायदा पीएमओ इंडिया को भी टैग किया है. इस ट्वीट में असदुद्दीन ओवैसी ने लिखा है कि, “आज चीन पर बोलना था, बोल गए चना पर. देखा जाए तो जरूरत भी इसी चीज की थी, क्योंकि आपके अनियोजित लॉकडाउन (Lockdown) ने कई लोगों को भूखा छोड़ दिया है.” इतना ही नहीं अपने ट्वीट में ओवैसी ने त्योहारों को लेकर भी प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन पर हमला बोला है. उन्होंने लिखा है कि, “आपने आने वाले महीने में पड़ने वाले कई पर्व-त्योहारों का नाम लिया लेकिन बकरीद को भूल गए. चलिए, फिर भी आपको पेशगी ईद मुबारक.”

बता दें कि ओवैसी से पहले कांग्रेस पार्टी (Congress party) ने भी पीएम मोदी पर चीन से डरने का आरोप लगाते हुए उन पर निशाना साधा था. कांग्रेस ने संबोधन में चीन का जिक्र न सुनने पर सरकार से कई सवाल पूछे हैं. साथ ही ट्वीट के जरिए कहा है कि राष्ट्रीय संबोधन में वो (PM Modi) इसका (चीन) जिक्र करने से भी डरते हैं. आगे कांग्रेस ने मौजूदा सरकार की इस बात के लिए भी तारीफ की, जिसमें पीएम मोदी ने 5 महीने और लोगों को मुफ्त में राशन देने की बात कही है. कांग्रेस का कहना है कि ये खबर सुनकर खुशी मिली कि प्रधानमंत्री ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia gandhi) के अपील पर ध्यान दिया. जिसमें गरीबों को मुफ्त अनाज देने की योजना को आगे बढ़ाने की मांग की गई थी.

ये भी पढ़ें:- भारत के डिजिटल स्ट्राइक ने ड्रैगन की बढ़ाई चिंता, 59 ऐप्स बैन होने पर चीन ने दिया ये बड़ा बयान