मानव संसाधन मंत्री बनते ही एक्शन में निशंक…राज्य सरकारों को दे दी ये चेतावनी

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सभी राज्य सरकारों के प्रति अब कड़ा रुख अख्तियार कर लिया है। पोखरियाल ने सभी राज्यों को साफ-साफ निर्देश देते हुए कहा कि वे राष्ट्रीय शिक्षण संस्थानों के लिए जमीन महैया करवाए, जो अभी किराए पर चल रहे हैं। वहीं, मानव संसाधन मंत्री ने राज्य सरकार को इस काम को पूरा करने लिए एक महीने का अल्टीमेटम दिया है। इसके साथ ही इस बात की चेतावनी भी दी है कि अगर राज्य ने एक महीने के भीतर जमीन मुहैया नहीं करवाई तो इन सभी संस्थानों को दूसरे राज्यों में स्थानांतरित कर दिया जाएगा। ये भी पढ़ें :जबरदस्त एक्शन में दिख रहे हैं पीएम मोदी..बनाई 8 कमेटियां ;हर कमेटी में अमित शाह

यहां आपको बता दें कि बीते दिनों मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ने शिक्षण संस्थानों के अध्यक्षों के साथ बैठक की थी। बैठक के दौरान सभी संस्थानों के अध्यक्षों ने कहा था कि अभी हमारे राज्यों में काफी बड़ी संख्या में विद्यार्थी किराए के संस्थानों में पढ़ाई करने को मजबूर हैं। हमारे पास खुद का संस्थान नहीं है। ऐसे में कहीं न कहीं उच्चा स्तर की शिक्षा की गुणवत्ता पर नकारात्मक असर पड़ रहा है। लिहाजा, हमें विद्यार्थियों को खुद का संस्थान उपलब्ध करवाना है। तभी हम शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ा पाएंगे।

अब शिक्षकों की कमी पूरी की जाएगी
आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, उच्चा शिक्षा मुहैया कराने वाले संस्थान शिक्षकों की भारी कमी से जूझ रहे हैं। देश के सभी राज्य विश्वविद्यालय 3 लाख शिक्षकों की भारी कमी से जूझ रहे हैं। ऐसे में रमेश पोखरियाल ने फैसला किया है कि जल्द ही शिक्षकों की इस कमी को पूरा किया जाएगा। तभी हम जाकर बच्चों को उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा उपलब्ध करवा पाएंगे। वहीं, रमेश पोखरियाल ने शिक्षकों की कमी की पूर्ती के बाबत और मौजूदा संस्थानों की बुनियादी जरूरतों को पूरा करने के लिए 77 करोड़ रूपए की धनराशी आवंटित की है। ताकि, उच्च शिक्षण संस्थानों को सुदृढ़ किया जा सके। ये भी पढ़े :दिग्गज साहित्याकार का निधन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जताया दुःख

   INDIA TODAY GROUP के सौजन्य हम आपको रमेश पोखरियाल से संबंधित ये वीडियो दिखा रहे हैं

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,092,598FansLike
5,000FollowersFollow
5,023SubscribersSubscribe

Latest Articles