चीता मित्रों से आखिर PM मोदी ने ऐसा क्यों कहा कि, मेरे रिश्तेदार भी आ जाए तो भी यहां घुसने मत देना, जाने वजह

चीता छोड़े जाने के बाद नरेंद्र मोदी ने बैठकर चीता मित्रों से भी बात की है। इस दौरान नरेंद्र मोदी ने कुछ ऐसा कह दिया है जो चर्चा में आ गया है नरेंद्र मोदी ने साफ तौर पर कह दिया कि मेरे रिश्तेदार भी आ जाए तब भी इस पार्क में घुसने दिया जाए। यह सुनकर सभी लोग हैरान है।

0
264
PM Modi

Cheetah in India: आखिरकार नरेंद्र मोदी ने कल अपने जन्मदिन पर अफ्रीकी देश नामीबिया से लाए गए चितो को मध्य प्रदेश कूनो नेशनल पार्क में आजाद करा दिया है। दरअसल नरेंद्र मोदी ने अफ्रीकी के देश नामीबिया से 8 सीटें लगाए हैं जिसे मध्य प्रदेश के कुनो नेशनल पार्क में आजाद कर दिया गया है। वहीं आपको बता दे नरेंद्र मोदी ने कल 17 सितंबर को अपना जन्मदिन मनाया है इस मौके पर उन्होंने कल दो चीते छोड़े हैं। नेशनल पार्क में खुद नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहे हैं ।चीता छोड़े जाने के बाद नरेंद्र मोदी ने बैठकर चीता मित्रों से भी बात की है। इस दौरान नरेंद्र मोदी ने कुछ ऐसा कह दिया है जो चर्चा में आ गया है नरेंद्र मोदी ने साफ तौर पर कह दिया कि मेरे रिश्तेदार भी आ जाए तब भी इस पार्क में घुसने दिया जाए। यह सुनकर सभी लोग हैरान है।

नरेंद्र मोदी ने चीता मित्रों को दी सलाह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेशनल पार्क में चीते को छोड़े जाने के बाद वहां पर मौजूद चीता मित्रों से बैठ कर बात की है। इस दौरान नरेंद्र मोदी ने चिता मित्रों को बहुत बड़ी सलाह दी है उन्होंने साफ तौर पर कह दिया है कि आप लोगों पर कई सारे दबाव बनाए जाएंगे आप ऊपर चीता देखने के लिए दबाव बनाए जाएंगे लेकिन आप किसी भी तरीके से ऐसा नहीं करेंगे। PM Modiनरेंद्र मोदी ने सलाह देते हुए बताया कि आपको बता दे सबसे पहले मुसीबत आप पर क्या आने वाली है तो बता दे सबसे बड़ी समस्या यह है कि आपके पास नेता आएंगे जो कि मेरे जैसे होंगे आपको बताया गया होगा कि थोड़े दिनों तक चीता देखने के लिए नहीं आना है। नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब तक जीते अपने नए बसेरे में ढल नहीं जाते हैं तब तक चाहे मेरे परिवार शायद किसी को भी एमपी के अंदर नहीं जाने दे।

चीतों को अभी यहां के मौसम के हिसाब से डरने देना है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीता मित्रों से बात करते हुए कहा है कि अभी यहां के मौसम से उन्हें ढूंढने देना चाहिए। जिसके बाद बड़ी जगह पर उन्हें ले जाया जाएगा। आपसे नेता या उनके रिश्तेदार या टीवी चैनल वाले या बड़े अफसर दबाव डालेंगे PM Modiतो उन्हें अंदर मत जाने देना। यह आपका काम है किसी को घुसने नहीं देना मैं भी आऊं तो मुझे भी अंदर मत जाने देना। जब तक चीता यहां के मौसम के हिसाब से पूरी तरह ढल नहीं जाते हैं तब तक किसी को यहां देखने के लिए मत आने देना यह जिम्मेदारी तुम्हारी है।

Read More-PM किसान सम्मान निधि लाभार्थियों के लिए आई खुशखबरी! 12वीं किस्त पाने से पहले उठाएं इस सुविधा का लाभ