Saturday, January 16, 2021

छोटा है हनुमान मंदिर, बड़ा बनवाने के लिए 65 साल के मुस्लिम व्यक्ति ने दान की करोड़ों की जमीन

जहां कुछ लोग धर्म के नाम पर मरने-मिटने के तैयार हो जाते हैं. अपने से दूसरे धर्म के लोगों से नफरत करते हैं. वहीं एक 65 साल के बुजुर्ग मुस्लिम व्यक्ति ने जो मिसाल पेश की है वो वाकई तारीफ-ए-काबिल है. वैसे तो ऐसे कई मामले हमने देखें हैं जहां लोग धर्म का भेदभाव आपसी अपनेपन की मिसाल पेश करते हैं. लेकिन जिस देश में लोग अपने से दूसरे धर्म की आलोचना करते हैं उसी देश में रहने वाले 65 साल के बुजुर्ग एचएमजी बाशा ने जो मिसाल पेश की है वो वाकई दिल जीत लेने वाली है. बाशा ने सिर्फ इसलिए अपनी करोड़ों रुपये की जमीन दान कर दी क्योंकि लोगों को छोटे मंदिर में पूजा करने में कठिनाई होती थी.

एकता की मिसाल
सामाजिक सद्धाव की ये घटना कर्नाटक (Karnataka) के बेंगलुरु (Bengaluru) से सामने आई है. जहां बुजुर्ग मुस्लिम व्यक्ति ने सिर्फ इसलिए अपनी करोड़ों रुपये की जमीन को दान कर दिया जिससे बड़ा हनुमान मंदिर बनाया जा सके. मुस्लिम व्यक्ति अपनी इच्छा से जमीन दान की है. एचएमजी बाशा बेंगलुरु के काडूगोडी क्षेत्र में रहते हैं औरHMG Basha donate land उनके पास बेंगलुरु के ही मायलापुरा इलाके में करीब 3 एकड़ की काफी बड़ी जमीन है. जिसकी कीमत आज के समय में करोड़ों में है. इसी जमीन के बगल में एक प्राचीन हनुमान मंदिर हैं जहां बड़ी संख्या में हनुमान भक्त पूजा-अर्चना करने आते हैं. प्राचीन मंदिर के प्रति लोगों की आस्था अटूट है.

छोटा है मंदिर इसलिए दी जमीन
प्राचीन हनुमान मंदिर छोटा है और जब भारी संख्या में लोग दर्शन के लिए आते हैं तो पूजा करने में काफी दिक्कत होती थी. वैसे तो मंदिर कमेटी पहले भी मंदिर विस्तार के लिए चर्चा कर चुकी है लेकिन जमीन नहीं होने की वजह से मंदिर बड़ा नहीं बन पा रहा था और मंदिर के बगल वाली जमीनHMG Basha poster for hanuman temple एचएमजी बाशा की है जो मुस्लिम है. इस वजह से मंदिर कमेटी उनसे बात करने में कतरा रहे थे. लेकिन जब खुद एचएमजी बाशा ने लोगों की परेशानी को अपने आंखों से देखा तो उन्हें बिना देरी किए मंदिर कमेटी के लोगों से बात की और जमीन दान देने की बात रखी.

शुरू हुई निर्माण कार्य
एचएमजी बाशा की पेशकश से मंदिर कमेटी के लोग काफी खुश हुए और उन्होंने बुजुर्ग व्यक्ति का सम्मान करते हुए जमीन मंदिर के नाम से दान में ले ली. बुजुर्ग व्यक्ति के इस काम की पूरे इलाके में चर्चा है. हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है. हनुमान भक्त भी मंदिर निर्माण कार्य से काफी खुश हैं और बाशा का धन्यवाद करते नहीं थक रहे. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो बाशा की जमीन ओल्‍ड मद्रास रोड पर मुख्‍य सड़क पर स्थित है. लोगों ने बाशा का धन्यवाद करने के लिए मंदिर के आसपास पोस्टर व बैनर लगाए हैं. जमीन दान करने के बाद मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो गया. चारों तरफ खुशी का माहौल है और बाशा द्वारा किया गया कार्य एकता की मिसाल बन गया है.

ये भी पढ़ेंः- मुस्लिम समुदाय ने दीयों से लिखा राम, जिला पंचायत सदस्य बोले- हम राम के वंशज

Stay Connected

1,097,100FansLike
10,000FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles