राजस्थान(rajasthan)। राजस्थान के जालौर(jalaur) में गुरुवार को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी(nitin gadkari), रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह(rajnath singh) की मौजूदगी में बाड़मेर हाइवे(barmer highway) पर स्पेशल एयरस्ट्रिप(airstrip) की शुरुआत की गई. खास बात ये है कि दोनों मंत्री भी वायुसेना के स्पेशल विमान से इसी एयरस्ट्रिप पर आए थे.

बता दें कि पाकिस्तान(Pakistan) की सीमा से कुछ ही दूरी पर स्थित ये करीब 4 किमी. लंबी एयरस्ट्रिप पर वायुसेना के लड़ाकू विमान लैंड कर सकेंगे. यहां रनवे पर सुखोई(sukhoi) लड़ाकू विमान फ्लाइपास करेगा, साथ ही जगुआर(jaguar) और एयरफोर्स के अन्य विमान भी इस दौरान यहां पर दिखाई देंगे.

खास बात ये है कि ये एयरस्ट्रिप भारत-पाकिस्तान बॉर्डर(india-pakistan border) के पास ही है, ऐसे में भविष्य में सामरिक रूप से भी इसकी काफी अहमियत होगी. हाइवे पर इस तरह की एयरस्ट्रिप की कई अहम भूमिकाएं होती हैं, यहां पर करीब चार एयरक्राफ्ट को पार्क करने की सुविधा भी होगी.

बता दें कि वायुसेना पिछले कुछ वक्त से लगातार देश के अलग-अलग हिस्सों में नेशनल हाइवे पर इस तरह के एयरस्ट्रिप बनाने पर फोकस कर रहा है. ये पहला नेशनल हाइवे है, जहां पर इस तरह की एयरस्ट्रिप तैयार हुई है. इससे पहले उत्तर प्रदेश के आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे(agra-lucknow expressway) पर भी सुखोई लैंड कर चुका है.

इसे भी पढ़ें-सिर्फ इन 6 लोगों को इंस्टाग्राम पर फॉलो करते थें सिद्धार्थ शुक्ला, एक से था बेहद खास रिश्ता