महिला ने 14 साल के लड़के का किया यौन शोषण, नाबालिग के बच्चे की बनी मां

sexually abuses

अमेरिका (America) में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई हैं. अमेरिका में एक सनसनीखेज वारदात हुई हैं. असल में, अमेरिका की एक महिला काउंसलर ने बहुत ही घिनौने अपराध को अंजाम दिया है. इस महिला काउंसलर ने अपनी से आधी उम्र से भी छोटे बच्चे का एक साल से ज्यादा समय तक यौन शोषण किया, जिसके बाद महिला प्रेग्नेंट(Female Pregnant) हो गई. सोशल मीडिया(social media)  में इस मामलें की काफी चर्चा हो रही है. आइए जानते है पूरा मामला…

इसे भी पढ़ें-गलती का एहसास होने पर Vivek Oberoi ने पुलिस को ट्वीट कर कही ये बात…

30 साल की महिला ने नाबालिग से बनाए अवैध संबंध

ये मामला अमेरिका के आयोवा प्रांत के सीडर रैपिड्स का है, जहां पर एक 30 साल की एक महिला काउंसलर ने 14 साल के नाबालिग बच्चे के साथ जबरन अवैध संबंध बनाए और उसका यौन शोषण किया. इन अवैध संबंधों के कारण वो महिला प्रेग्नेंट हो गई और फिर उसने 14 साल के नाबालिग के बच्चे को जन्म दिया. आपकों बता दें इस महिला का नाम डेनिल हुक है. बच्चे को जन्म देने के बाद ही महिला कांउसलर की काली करतूत का खुलासा हुआ.

डीएनए टेस्ट से हुई पुष्टि

पीड़ित के वकील ने अपने पक्ष को स्पष्ट करते हुए बताया कि यौन शोषण के बाद डेनिल हुक ने नाबालिग के बच्चे को पैदा किया और इस बात को डीएनए टेस्ट से पता लगाया गया. डीएनए टेस्ट में नाबालिग और नवजात बच्चे का डीएनए मैच हुआ है. बीते मार्च, 2020 में पुलिस ने महिला को नाबालिग का यौन शोषण करने के केस में गिरफ्तार किया था और महिला को कोर्ट में पेश किया गया. गत बुधवार को कोर्ट ने महिला को दोषी ठहराया है. इससे पहले महिला ने कोर्ट में अपने गंदे काम के लिए लिखित रूप में माफी भी मांगी थी.

आयोवा डिपार्टमेंट ऑफ ह्यूमन सर्विस के मुताबिक, डेनिल हुक ने 1 जुलाई, 2017 से 30 नवंबर, 2018 के बीच 14 साल के नाबालिग बच्चे के साथ यौन शोषण किया. महिला ने नाबालिग के साथ कई बार अवैध तरीके से संबंध बनाए.

इसे भी पढ़ें-आखिर ब्रह्मांड में कितने हैं ब्लैक होल? वैज्ञानिकों के निर्मित मैप से हुआ खुलासा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *