Homeदुनियाजब डाॅक्टरों ने महिला के फेफड़े का किया आपरेशन तो निकला यह...

जब डाॅक्टरों ने महिला के फेफड़े का किया आपरेशन तो निकला यह सामान, शर्मसार हो गये दंपति

- Advertisement -

दिल्ली। क्षय रोग या ट्यूबरक्लोसिस ऐसी खतरनाक बीमारी है जो सीधे फेफड़ों पर हमला करती है और उसके बाद रीढ़ की हड्डी से होते हुए दिमाग तक फैल जाती है। डाॅक्टरों ने एक असाध्य बीमारी की इलाज के दौरान महिला की शरीर में आश्चर्यजनक छाया देखा। स्कूल में पढ़ाने वाली 27 साल की एक महिला शिक्षक के छाती में दर्द रहता था जिससे वह परेशान थी। वह पिछले छह महीनों से बलगम, खांसी और बुखार जैसे लक्षणों से पीड़ित थी। उसे संदेह हुआ कि कहीं उसे टीबी तो नहीं हो गया है। महिला ने इलाज के लिए डॉक्टर से संपर्क किया। डॉक्टरों ने उनके टीबी के कई टेस्ट किए लेकिन सभी रिपोर्ट निगेटिव आयी। महिला की छाती में दर्द लगातार बना रहा। परेशान डाॅक्टरों ने महिला के फेफड़ों का एक्सरे किया। एक्सरे करने वाले डॉक्टरों ने फेफड़ों के ऊपरी दाहिनी ओर सूजन दिखी। बारीकी से जांच करने पर पता चला कि यह सूजन फेफड़ों में जमे एक उल्टे बैग जैसी संरचना की वजह से है। इसी बैग की वजह से महिला को लगातार बुखार और खांसी बनी हुई थी। उल्टे बैग जैसी संरचना देखने के बाद डॉक्टरों ने तुरंत महिला के ऑपरेशन का फैसला किया। सर्जरी करके डाॅक्टरों उस बैग नुमा चीज को बाहर निकाला। उस बैग को देखकर डॉक्टर हैरान हो गये। दरअसल वह बैग और कुछ नहीं एक कंडोम था।

यह भी पढ़ेंः-लापरवाही : फोन में बिजी नर्स ने महिला को एक नहीं बल्कि दो बार लगाई वैक्सीन, हंगामा

जब डॉक्टरों ने महिला और उसके पति को आमने-सामने बिठाकर पूछताछ की। महिला ने स्वीकार किया कि मुखमैथुन के दौरान उसने वह कंडोम निगल लिया था। कपल ने बताया कि शरीर में जाने के बाद कंडोम ढीला पड़ गया था। जिसकी वजह से महिला को खांसी और छींक शुरू हो गई। फेंफड़े में दर्द की शिकायत होने लगी थी। डाॅक्टरों को महिला ने बताया कि वे और उसके पति दोनों इस कंडोम के बारे में जानते थे लेकिन शर्मिंदगी की वजह से डॉक्टरों को इस बारे में नहीं बताया।

हालांकि एक्सरे के दौरान डॉक्टरों को इस बात का पता चल गया। डाॅक्टरों ने महिला की सर्जरी कर जान बचा लिया। रिपोर्ट के मुताबिक मेडिकल लिटरेचर में यह अपनी तरह का अनोखा मामला है। फिलहाल महिला की हालत ठीक है और वह सारे दैनिक काम कर रही है। कंडोम के बाकी बचे हिस्सों को निकालने के लिए उसे फेफड़ों की एक और ब्रोन्कोस्कोपी सर्जरी से गुजरना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ेंःपति और ब्वॉयफ्रेंड की बीच उलझी महिला की जिंदगी, फैसले पर अटका जीवन का सुकून

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here