कोरोना वैक्सीन बनाने की दौड़ में सबसे आगे अमेरिका, अब ट्रंप के स्वास्थ्य मंत्री का आया बड़ा बयान 

241

समस्त विश्व में कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है। लगतार बढ़ती संक्रमितों की संख्या अब चिंता का सबब बन चुकी है। लिहाजा कोरोना के कहर पर अंकुश लगाने की दिशा में लगातार वैज्ञानिकों द्वारा शोध का सिलसिला जारी है। इस बीच वैक्सीन बनाने की इस दौड़ में अमेरिकी कंंपनी मार्डना नोवावैक्स सबसे आगे है। अब ऐसी स्थिति में जब पूरा विश्व कोरोना के कहर से त्राहि त्राहि कर रहा है तो अमेरिकी स्वास्थ्य मंत्री एलेक्स एजर का वह बयान खासा मायने रखता है, जिसमें उन्होंने कहा है कि सबसे पहले कोरोना की वैक्सीन बनने के बाद हम अपने देश के जरूरतमंद लोगों को देंगे। इसके बाद इसे दूसरे देशों को दिया जाएगा।

ये भी पढ़े :माउथवॉश के इस्तेमाल से कम होगा कोरोना वायरस का खतरा, स्टडी में हुआ खुलासा

खुद के WHO से अलग होने पर कही ये बात 
बताते चले कि अमेरिकी स्वास्थ्य मंत्री एलेक्स एजर ताइवान के दौर पर गए थे, जहां पर उन्होंने यह उक्त बयान दिया है, जिसमें उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन बनने के बाद हमारे लिए सर्वप्रथम खुद के लोग की प्राथमिकता ज्यादा है। इसके बाद हम किसी दूसरे देशों को इसकी सप्लाई करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने खुद के WHO से अलग होने पर कहा कि वैश्विक संस्था से अलग होने का मतलब यह नहीं है कि हमारी वैश्विक स्वास्थ्य में भागीदारी नहीं रही बल्कि अमेरिका तो शुरू से ही वैश्विक स्वास्थ्य के क्षेेत्र सबसे बड़ा निवेशक रहा है।

अमेरिका में कोरोना वायरस की स्थिति 
गौरतलब है कि लगातार बढ़ते संक्रमण के साथ ही अमेरिका सर्वाधिक संक्रमित देशों की फेहरिस्त में बना हुआ है। मौजूदा समय में भी वहां पर संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। अमेरिका में संक्रमितों की संख्या अब 52 लाख के पार पहुंच चुकी है। लगातार बढ़ती संक्रमितों की संख्या अब यकीनन ट्रंप प्रशासन के लिए चुनौती बनता जा रहा है। मगर राहत की बात यह है कि अमेरिकी कंपनी कोरोन वैक्सीन बनाने की दिशा में लगातार आगे बढ़ती नजर आ रही है। ये भी पढ़े :कोरोना वायरस पर चीन के मशहूर डॉक्टर ने किया बड़ा खुलासा, बताया- वुहान में असल में क्या हुआ?