kabul airport

काबुल। अफगानिस्तान पर हथियार के बल पर तालिबान का कब्जा होने के बाद स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। अफगानिस्तान से लगातार लोगों का पलायन होता जा रहा है। काबुल एयरपोर्ट पर विदेशी विमान अपने नागरिकों को स्वदेश ले जा रहे हैं। इस दौरान इस एयरपोर्ट की स्थिति बेहद खराब है। काबुल एयरपोर्ट पर ताजा भगदड़ में 7 लोगों की मौत की खबर है। माना जा रहा है कि तालिबानियों की गोलबारी से मौत हुई है। भगदड़ में लोगों के जान गंवाने की खबर अपने लोगों को निकाल रही ब्रिटिश मिलिट्री ने दी है। भगदड़ में जान गंवाने वाले लोग एयरपोर्ट पर दाखिल होने की कोशिश कर रहे थे। लोगों में अफरातफरी मची हुई। हर कोई अफगानिस्तान में खौफ के साये में जी रहा है।

taliban 4

ब्रिटिश मिलिट्री की तरफ से दावा किया गया है कि भगदड़ इसलिए मची थी क्योंकि तालिबानी वहां हवा में गोलियां चलाते हैं, जिससे लोग डर जाते हैं। ये गोलियां उन लोगों में दहशत फैलाने और भगाने के लिए ही की जा रही है जो देश छोड़कर जाने के लिए एयरपोर्ट पर जमा होते हैं। तालिबानी कोशिश कर रहे हैं कि खौफ से लोग एयरपोर्ट नहीं आयें।
ब्रिटिश सेना ने रविवार को बयान जारी कर कहा कि वहां हालात बेहद खराब हैं। हम लोग किसी तरह हालातों पर काबू पाने की कोशिश कर रहे हैं, जिससे लोगों को सुरक्षित निकाला जा सके। तालिबानियों की गोलीबारी से बार-बार स्थिति खराब हो जा रही है।

काबुल एयरपोर्ट पर 15 अगस्त के बाद से ही डर-भगदड़ का माहौल है। काबुल पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां रह रहे लोग किसी भी तरह निकलना चाहते हैं। तालिबान लोगों को जाने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन तालिबान पर कोई विष्वास नहीं कर रहा है। तालिबान ने काबुल को चारों तरफ से घेरा हुआ था। इसलिए सिर्फ हवाई रास्ता बचा था लेकिन इस बीच फ्लाइट सर्विस भी ठप पड़ गई थी। फिर भारत, अमेरिका, ब्रिटेन समेत कुछ अन्य देशों ने अपने-अपने लोगों को वहां से निकालना शुरू किया। अमेरिका ने अफगान के लोगों को भी निकाल कर उन्हें टेक्सास के आसपास शरण दी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः-तालिबानियों ने 150 अगवा लोगों को ऐसे छोड़ा, काबुल एयरपोर्ट के पास एक गैराज में हैं सभी सुरक्षित