लंदन। ब्रिटेन में एक व्यक्ति के हाथ ऐसा दुर्लभ सिक्का लगा है जिसकी कीमत करोड़ों रुपये में आंकी जा रही है। यह सिक्का ब्रिटेन स्थित विल्टशायर और हैम्पशायर बॉर्डर पर वेस्ट डीन में मेटल डिटेक्टर की मदद से खोजा गया, यह सिक्का 30 पेंस का है। खबर के अनुसार यह सिक्का पिछले साल मार्च में मिला था। नीलामी में यह लगभग 200,000 पाउंड यानी करीब दो करोड़ रुपए में बिक सकता है। सिक्के का वजन 4.82 ग्राम है जबकि सिक्के का व्यास एक इंच से भी कम है। यह सिक्का वेस्ट सैक्सन के राजा एक्गबर्ट के समय में रेत में फंस गया था। दिलचस्प बात ये है कि सिक्के को खोजने वाला शख्स पिछले आठ साल से खजाने की तलाश कर रहा था।

सिक्के की तलाश में वह विल्टशायर और हैम्पशायर बॉर्डर पर कई सालों से घूम रहा था। एक दिन अचानक मेटल डिटेक्टर के साथ घूमते हुए उसे एक जगह पर मेटल डिटेक्टर में इंडिकेटर की आवाज सुनाई दी। इसके बाद उसने उस जगह की खोदाई की, जहां यह सिक्का मिला। कुछ अन्य मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जून 2021 में सिक्के की जांच की गई थी, जिसमें पाया गया कि यह ‘शुद्ध सोने’ से बना है जबकि इसमें बेहद थोड़ी मात्रा में चांदी और तांबा भी मौजूद है। इसकी नीलामी आठ सितम्बर को की जायेगी।

वहीं दूसरी ओर ऐसा माना जाता है कि सोने और चांदी के सिक्के की भारत में कबसे शुरुआत हुई? 6वीं शताब्दी ईसा पूर्व में प्राचीन भारत में सिरका में सिक्कों की सबसे पहली शुरुआत हुई थी, उस समय से, सिक्के को पैसे का सबसे सार्वभौमिक अवतार माना जाने लगा था। उधर, कुछ इतिहासकारों के अनुसार भारत के किसी राजा द्वारा जारी प्रथम स्वर्ण सिक्का 127 सेन्चुरी में कुषाण राजा कनिष्क 1 द्वारा जारी किया गया था।

यह भी पढ़ें:फरवरी से अप्रैल के बीच हो सकते हैं विधानसभा चुनाव, ऐसी है चुनाव आयोग की तैयारी