इजराइल को आतंकियों की बड़ी धमकी, ‘इजराइली सेना आज रात तैयार रहो और हमारा इंतजार करो’

0
705
Israeli army

हाल ही में बेरूत में हुए ड्रोन हमले के बाद से ईरान समर्थित शिया संगठन हिजबुल्ला के प्रमुख हसन नसरहल्ला बौखला गए हैं। और उन्होंने इजराइल को बड़ी धमकी दे डाली है। उन्होंने कहा कि, इस हमले के बाद अब वो किसी भी तरह का कदम उठा सकते हैं। इजराइल और अमेरिका ने हिजबुल्ला को आतंकी संगठन घोषित किया हुआ है। ऐसे में ये धमकी इजराइल की मुश्किलें बढ़ा सकती है। क्योंकि, हिजबुल्ला लेबनान में एक राजनीतिक संगठन की हैसियत रखता है। सीरिया में वहां की सरकार का मुख्य समर्थक भी है। हालांकि, इजराइल और हिजबुल्ला के बीच पहले भी कई बार इस तरह के संघर्ष होते रहे हैं। बीते महीनों को दोनों ने एक दूसरे पर जमकर बयानबाजी की थी।

हिजबुल्ला की इजराइल को बड़ी धमकी
रविवार को इजराइल की तरफ से किए गए हमले में हिजबुल्ला के दो सदस्यों की मौत हो चुकी है। जिसके बाद, संगठन के मुखिया ने अपने हजारों समर्थकों को संबोधित किया। जिसमें उन्होंने कहा कि, इजराइल की तरफ से साल 2006 के युद्ध के बाद से ये पहली ऐसी दुश्मनी बढ़ाने वाली कार्रवाई है। वो बोले 33 दिनों के युद्ध के बाद हुए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के समझौते का उल्लंघन है, 33 दिनों के युद्ध के दौरान लेबनान में 1,200 लोग मारे गए थे, जिनमें ज्यादातर आम नागरिक थे। इस युद्ध में 160 लोग इजरायल में मारे गए थे। इन सारी बातों के साथ नसरल्ला ने कहा कि, उनका संगठन इस तरह के हमलों को रोकने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है। वो बोले कि, ‘वो समय खत्म हो चुका है जब इजरायल के विमान लेबनान आते थे और बमबारी करके वापस चले जाते थे।’ अपने भाषण में उन्होंने ये तक कह दिया कि, ‘मैं इजराइली सेना से कहता हूं कि आज रात तैयार रहो और हमारा इंतजार करो।’

इजराइल बोला- आतंकियों को बनाना था निशाना
इजराइल रविवार को बेरूत में हुए हमले पर इजराइल के सैन्य प्रवक्ता जोनाथन कॉनरिकस ने अपना बयान दिया। उन्होंने कहा कि, इजराइल हमले का मुख्य उद्देश्य ईरान समर्थित आतंकियों और ईरान समर्थित कुद्स फोर्स को निशाना बनाना था। वो बोले, “हम कुछ वक्त से सेकुद्स फोर्स को ट्रैक कर रहे हैं।” जबकि, भाषा की खबर का कहना है कि, लेबनान की राजधानी बेरूत के आस-पास इजराइल के दो ड्रोन को नष्ट हो गए। जिसमें पहला ड्रोन संगठन के मीडिया कार्यालय भवन की छत पर गिरा तो दूसरा इसके पिछले भाग के एक भूखंड पर गिरा। वहीं हिजबुल्ला के प्रवक्ता ने कहा कि उसने किसी भी ड्रोन को निशाना नहीं बनाया। ये सारी घटनाएं ऐसे वक्त हुई है, जब इजराइल और ईरान के बीच तनाव चरम पर हैं। आपको बता दें, हिजबुल्ला की तरफ से मिली धमकी पर अब तक इजराइल की तरफ से किसी तरह का कोई बयान सामने नहीं आया है। ये भी पढ़ेंः- वर्ल्ड वॉर-3 की तैयारी? ईरान के खिलाफ अमेरिका ने तैनात कर दिए लड़ाकू विमान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here