america

वॉशिंगटन। दुनिया भर में तबाही मचा रहे कोरोना वायरस के खात्मे के लिए अब अमेरिका ने कमर कस ली है। अमेरिका ने अब वैक्सीन (Vaccine) के प्रोडक्शन के लिए जरूरी कच्चे माल (Raw Material) के एक्सपोर्ट पर से रोक हटा ली है। अमेरिका ने वैक्सीन देने के लिए साझेदार देशों की एक लिस्ट बनाई है जिसमें उसने भारत को खास स्थान दिया है।

उल्लेखनीय है कि दुनिया भर में कोहराम मचा रहे कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने ग्लोबल एलोकेशन प्लान (Global Allocation Plan) लॉन्च किया है। इस प्लान के तहत अब अमेरिका दुनिया भर के तमाम देशों को कोरोना वैक्सीन की 2.5 करोड़ डोज सप्लाई करेगा। अमेरिका ने इसके लिए अपने साझेदार देशों की लिस्ट तैयार की है जिसमें उसने भारत को अहम स्थान दिया है जिसके तहत भारत को अमेरिका से वैक्सीन का एक बड़ा हिस्सा उपलब्ध कराया जायेगा।

कच्चे माल पर लगी रोक हटाई 

गौरतलब है कि इसके पहले अमेरिका ने कोविड वैक्सीन के कच्चे माल पर रोक लगाईं थी जिसे अब उसने हटा ली है। इस बात की जानकारी देते हुए अमेरिका में मौजूद भारत के राजदूत (Indian Diplomat) तरनजीत सिंह संधू (Taranjit Singh Sandhu) ने बताया कि अमेरिका ने इसके पहले डिफेंस प्रोडक्शन एक्ट (Defense Production Act) लागू कर दिया था जिसके तहत उसने कोरोना वैक्सीन के कच्चे माल के निर्यात पर प्रतिबन्ध लग दिया था। उन्होंने कहा कि डिफेंस प्रोडक्शन एक्ट की वजह से जरूरी चीजों की सप्लाई में अमेरिका को प्रॉयरिटी देना जरूरी था।

कंपनियों ने ली राहत की सांस 

भारतीय राजदूत ने बताया कि इसके पहले भारत ने अमेरिका से वैक्सीन के कच्चे माल के निर्यात पर लगी रोक हटाने की अपील की थी। बता दें कि अमेरिका के इस फैसले से वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों ने राहत की सांस ली है। गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन पहले भी कह चुके हैं की भारत मुश्किल समय में हमारे साथ खड़ा था, हम भी भारत के साथ खड़े रहेंगे। भारतीय राजदूत तरनजीत संधू ने कहा कि अमेरिका के ग्लोबल एलोकेशन प्लान (Global Allocation Plan) से भारत पूरी तरह से लाभान्वित होगा और भारत को जल्दी भी कोविड वैक्सीन की भारी खेप मिलने वाली है।

इसे भी पढ़ें:-अजीत डोभाल के कौशल ने ऐसे किया काम, अब अमेरिका वैक्सीन के लिए जल्द भेजेगा का कच्चा माल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here