अमेरिका में ‘सुपरफाइट’ ट्रंप ने कहा- अगर ऐसा हुआ तो पूरा देश हो जाएगा दिवालिया, हंसेगी पूरी दुनिया

516

दुनियाभर में कोरोना संकट का दौर चल रहा है, लेकिन इसी साल नवंबर महीने में अमेरिका में राष्ट्रपति के चुनाव भी होने है। ऐसे में ये देखना काफी दिलचस्प होगा कि इस बार राष्ट्रपति का चुनाव कौन जीतता है?. क्या पहले की तरह ट्रंप की तरफ रूझान रहेंगे या कोई और बाजी मार ले जाएगा। इसलिए यह चुनाव दर्शकों के लिए भी काफी खास है। वहीं चुनाव से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि अगर तीन नवंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार बाइडेन की जीत होती है तो अमेरिका दिवालिया होना जाएगा, और दुनिया में हंसी का पात्र बन सकता है। ट्रंप का यह बयान सोशल मीडिया पर सुर्खियां बटोर रहा है। ट्रंप ने आगे कहा कि बाइडेन ने जो नीतियां प्रस्तावित की हैं, वे देश के लिए ठीक नहीं है। इसलिए जनता अमेरिका के भविष्य को देखते हुए फैसला करे।

ये भी पढ़ें:-खतरे में पड़ जाएगी डोनाल्ड ट्रंप की कुर्सी?, ड्रैगन इन देशों के साथ मिलकर बना रहा नई रणनीति

ट्रंप ने यह बातें व्हाइट हाउस में आयोजित एक पत्रकार वार्ता के दौरान कही हैं। इस बातचीत में ट्रंप ने आगे कहा, ‘आज हमने देखा कि जो बाइडेन महामारी का राजनीतिकरण करना जारी रखे हुए हैं और दिखा रहे हैं कि अमेरिकियों के प्रति उनमें सम्मान नहीं है. उन्होंने वैज्ञानिक सबूतों को नजरअंदाज किया और तथ्यों एवं सबूतों से ऊपर वाम झुकाव वाली राजनीति को रखा.’ ट्रंप ने कहा वायरस को लेकर बाइडेन हर चरण में गलत हैं।

ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘अगर जो बाइडेन कभी राष्ट्रपति बनते हैं तो पूरी दुनिया हंसेगी और अमेरिका का पूरा फायदा उठाएगी. हमारा देश दिवालिया हो सकता है.’

ट्रंप ने आरोप लगाया कि बाइडेन अमेरिका की सीमाओं को खुला रखकर अमेरिकी समुदायों में महामारी की घुसपैठ कराना चाहते हैं. ट्रंप ने ट्वीट के साथ फॉक्स न्यूज का वीडियो भी साझा किया जिसमें न्यूज एंकर बाइडेन की प्रशंसा करने पर भारतीय अमेरिकी कांग्रेस सदस्य प्रमिला जयपाल की निंदा कर रही है।

राष्ट्रपति ने आरोप लगाया, ‘स्लीपी जो ने चीन और यूरोप यात्रा पर रोक लगाने का विरोध किया. आप यह जानते हैं. उन्होंने चीन पर यात्रा प्रतिबंध का विरोध किया जो मैंने बहुत पहले ही लगा दिया था और यूरोप पर यात्रा प्रतिबंध का विरोध किया

था जिस पर काफी पहले मैंने रोक लगा दी थी. अगर मैं उनकी सलाह मानता तो लाखों और लोगों की मौत हो सकती थी. यह मैं कई लोगों के हवाले से कह रहा हूं।’

ये भी पढ़ें:-तानाशाह किम जोंग की बहन का तीखा अंदाज, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से कह दी ऐसी बात