Homeदुनियापाकिस्तान की अफगानिस्तान में हुई हाई लेवल बेइज्जती, आपरेटर ने रोक दिया...

पाकिस्तान की अफगानिस्तान में हुई हाई लेवल बेइज्जती, आपरेटर ने रोक दिया लैंडिंग

- Advertisement -

काबुल। पाकिस्तान जहां एक ओर दुनिया में अलग-थलग पड़ गया है, वहीं उसे अब अफगानिस्तान में हाई लेवल बेइज्जती का सामना करना पड़ा है। अफगानिस्तान यात्रा पर गए एक पाकिस्तानी संसदीय प्रतिनिधिमंडल को हवाईअड्डे के टावर ऑपरेटर ने सुरक्षा का हवाला देते हुए लैंडिंग की इजाजत नहीं दी। यात्रा रद्द करने की सूचना भी प्रतिनिधिमंडल को ऑपरेटर द्वारा ही दी गई। अफगान की नजरों में पाकिस्तान के अस्तित्व को गहरा धक्का लगा है। अफगानिस्तान के इस कार्रवाई पर पाकिस्तान गुस्से तिलमिला उठा है। संसदीय सचिव असद कैसर के नेतृत्व में पांच सदस्यीय संसदीय प्रतिनिधिमंडल, तीन दिवसीय यात्रा के लिए अफगानिस्तान पहुंचा था। इस दौरान दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के लिए वार्ता होनी थी। प्रतिनिधि मंडल जब वहां पहुंचा तो उनके जहाज को लैंड करने की इजाजत ही नहीं दी गई।

यह भी पढ़ेंः-गजबः पाकिस्तानी युवक से शादीशुदा भारतीय महिला को हुआ प्यार, मिलने पहुंची बॉर्डर तो खुला राज!

पूर्व पाकिस्तानी सीनेटर फरहतुल्लाह बाबर ने यात्रा के रहस्यमय तरीके से रद्द होने के समय पर सवाल उठाया है। इस यात्रा के रद होने से पाकिस्तान की बहुत बेइज्जती हुई है। बाबर ने एक ट्वीट में बताया है कि लैंडिंग के समय सुरक्षा का खतरा पैदा हो गया था। यात्रा को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया। इसके लिए मेजबान के द्वारा कोई पछतावा नहीं जताया गया। उन्होंने बताया कि यात्रा रद्द करने के बारे में टावर ऑपरेटर द्वारा बताया गया। उच्च स्तरीय प्रतिनिधि के सामान्य प्रोटोकॉल को नजरअंदाज कर दिया गया।

अफगानिस्तान के लिए पाकिस्तान के विशेष प्रतिनिधि मोहम्मद सादिक ने गुरुवार को बताया कि काबुल के लिए स्पीकर की यात्रा को स्थगित कर दिया गया है। यात्रा के लिए नई तारीखों का फैसला आपसी विचार विमर्श के बाद किया जाएगा। ज्ञात हो कि अफगानिस्तान को लगता है कि पाकिस्तान तालिबान के साथ शांति वार्ता में रोड़ा अटका सकता है। इसी कारण दोनों देशों के बीच रिश्ते अच्छे नहीं हैं। तालिबान के वरिष्ठ नेताओं के पाकिस्तान में अपने अनुयायियों और तालिबान लड़ाकों से मिलते हुए एक वीडियो भी सामने आया था।

यह भी पढ़ेंः-चीन ने लगाया पाकिस्तान को चूना, बढ़ गई इमरान सरकार की मुसीबतें

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here