पुलवामा हमले की बरसी पर पाकिस्तान को सताया डर, कहा- भारत कर सकता है बड़ी कार्रवाई

0
639
pakistan_scared_pulwama_barsi

14 फरवरी एक ऐसी तारीख जिसने भारत को ऐसे जख्म दे दिए जिन्हें भूल पाना हर किसी के लिए आसान नहीं। आज भी वो मंजर याद करके आंखें अपने आप नम हो जाती हैं। आज हर कोई अपने वीर जवानों को सलामी दे रहा है। लेकिन, पाकिस्तान ने पुलवामा हमले (Pulwama attack) की बरसी पर एक बार फिर अपना डर भारत के सामने दिखाया है। पाकिस्तान (Pakistan) की तरफ से ये आशंका जताई गई है कि, भारत आने वाले कुछ दिनों में उनके मुल्क पर कोई बड़ी कार्रवाई कर सकता है।

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता आएशा फारूकी ने इस सिलसिले में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बताया कि, पाक पीएम इमरान खान को ये डर है कि, तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयप एर्दोगान के इस्लामाबाद दौरे के बीच भारत उनके मुल्क पर कोई ‘गैर जिम्मेदाराना कार्रवाई’ कर सकता है।

द वीक की खबर के अनुसार, पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता आएशा फारूकी (ayesha farooqui) का कहना है कि, पाकिस्तान, भारत की तरफ से होने वाली कार्रवाई का जवाब देने के लिए पूरी तरह तैयार है। उनका कहना है कि, तुर्की कश्मीर मुद्दे पर पूरी तरह पाकिस्तान के साथ है जिससे भारत चिढ़ा हुआ है। साथ ही उन्होंने कहा कि, तुर्की के राष्ट्रपति की यात्रा इस्लामाबाद और अंकारा के बीच द्विपक्षीय संबंधों को और विस्तार देने की दिशा में काम करेगी।

पाकिस्तान को सताया डर
इस दौरान फारूकी ने ये भी कहा कि, भारत लगातार अमेरिका से हथियार ले रहा है। जिनका इस्तेमाल भारत उनके मुल्क के खिलाफ कर सकता है। इस दौरान उन्होंने कहा, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत का दौरा करने से भारत को 1.9 बिलियन डॉलर के एयर डिफेंस सिस्टम बेचने को मंजूरी दे दी है जो इस वक्त विश्व शांति के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं है। इस दौरान पाकिस्तान ने ये भी आरोप लगाया कि, भारत की इन हरकतों से दक्षिण एशिया में हथियारों की होड़ लग जाएगी।

वहीं इस दौरान उनका कहना है कि, भारत इंटिग्रेटेड एयर डिफेंस वेपन सिस्टम का उपयोग अपने सशस्त्र बलों को अत्याधुनिक करने के लिए कर रहा है। बता दें, अमेरिका भारत को आईएडीडब्ल्यूएस 1.9 बिलियन डॉलर में बेचेगा और इस पर डिफेंस सिक्योरिटी कोऑपरेशन एजेंसी का कहना है कि, ट्रंप प्रशासन ने अमेरिकी संसद को सूचना दे दी है कि, वह भारत को एकीकृत वायु रक्षा हथियार प्रणाली (आईएडीडब्ल्यूएस) बेचने के लिए पूरी तरह संकल्पित है। जिसकी पूरी कीमत 1.867 अरब अमेरिकी डॉलर के करीब होगी।

पुलवामा अटैक को हुआ 1 साल, CRPF ने जवानों को दी कभी न भूलने वाली सलामी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here