भारत को घेरने की पाकिस्तान ने चली गंदी चाल, अमेरिका में इस प्रस्ताव को लेकर भेजा मंत्रिमंडल

0
447
pakistan-india-america

पाकिस्तान हमेशा से ही भारत को दूसरे देशों के सामने गलत साबित करने की कोशिशो में लगा रहा है. एक बार फिर भारत के साथ सिंधु जल समझौते से जुड़े विवादों को लेकर पाकिस्तान के नुमाइंदो का एक दल रविवार के दिन अमेरिका से बात करने के लिए गया है.

Imran khan

पाकिस्तान से आई खबरों की माने तो जो दल अमेरिका से बात करने के लिए गया है, वो वहां जाकर 1960 में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए सिंधु जल समझौते पर अमल करने की बात पर जोर देगा. इसके साथ ही बता दें कि ये प्रतिनिधिमंडल सिंधु जल आयुक्त सैयद मेहर अली शाह के नेतृत्व में गया है.

sindhu nadi

जानकारी की माने तो ये प्रतिनिधिमंडल पांच दिनों के लिए अमेरिका गया है. जो भारत की दो पनबिजली परियोजनाओं, किशनगंगा और रातले, की डिजाइन पर अपनी समस्याओं को हल करने के लिए न्यायाधिकरण के गठन की मांग उठाएगा.

Imran khan

इसके अलावा रिपोर्ट की माने तो उसमें ये भी कहा गया है कि भारत जिन 330 मेगावॉट की किशनगंगा और 850 मेगावाट की रातले पनबिजली परियोजनाओं पर काम कर रहा है, उससे पाक्स्तान संतुष्ट नहीं है. उनका इन दोनों परियोजनाओं के बारे में ये मानन है कि ये दोनों पनबिजली संयंत्र संधि विरूद्ध है.

nitin gadkari

बता दें कि जिस तरह से सालभर में पाकिस्तान और भारत के बीच तनाव का माहौल देखा गया और पुलवामा हमले में भारत के कई जवान शहीद हो गए, उसी के बाद से ही भारत ने अपने तरफ से जाने वाले पानी को पाकिस्तान में सप्लाई करने पर सख्ती बरती है. इससे पहले ये पानी पाकिस्तान में बिना किसी रोक-टोक के जाया करता था.

ये भी पढ़ें:- PM मोदी के खिलाफ पाकिस्तानी मंत्री का विवादित बयान, भारत को भी दी जंग की धमकी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here