पाक ने फिर दी गीदड़ भभकी, स्वतंत्रता दिवस से पहले बौखलाई सेना ने कहा- ‘5 हो या 500 राफेल हम तैयार’

99

देशभर में कल आजादी का 74 वां स्वतंत्रता दिवस मनाया जाएगा, इसको लेकर पूरे देश में सारी तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। वहीं स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य पर सुरक्षा व्यवस्था के खास इंतजाम किए गए हैं। बता दें कि कल शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले से तिरंगा लहराएंगे। इस दौरान उनकी सुरक्षा के लिए तैनात एसपीजी के कमांडो इस कार्यक्रम को अपनी निगरानी में रखेंगे, ताकि देश के इस उमंग में कोई भंग न पड़ सके। इस बीच स्वतंत्रता दिवस से ठीक पहले भारत के पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान ने एक बार फिर अपनी गीदड़ भभकी दी है। दरअसल पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता ने भारत के खिलाफ जगह उगलते हुए कहा कि भारत पांच राफेल विमान लाए या पांच सौ, पाकिस्तान की सेना को डर नहीं है। पाकिस्तान के इस बयान से साफ पता चलता है कि भारत में आए राफेल विमान से उनकी सेना की कपकपी अभी छूटी नहीं है, इसलिए सदमे में आकर ऐसे बयान दे रहे हैं।

ये बी पढ़ें:-पाकिस्तान के बाशिंदो ने उड़ाया इमरान खान का मजाक, कहा- ‘नक्शा नहीं नशा बदलो’ जमकर पीटा

इतना ही नहीं भारत विरोधी बयान देने वाले सैयद अली शाह गिलानी को पाकिस्तान ने अपने स्वतंत्रता दिवस पर निशान-ए-पाकिस्तान से सम्मानित किया है. ये पाकिस्तान का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है. पाकिस्तान सेना ही नहीं इमरान खान की सरकार ने भी भारत से रिश्ते को बिगाड़ने वाला कदम उठाया है।

पाकिस्तान की सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर ने कहा, “इस वक्त भारत की डिफेंस में स्पेंडिंग दुनिया में सबसे ज्यादा है. पांच राफेल के सफर को फ्रांस से हिंदुस्तान तक कवर किया गया. बहरहाल पांच आ जाएं, पांच सौ आ जाएं…हम पूरी तरह से तैयार हैं.”

मालूम हो कि इससे पहले भी पाकिस्तान कई बार अंतरराष्ट्रीय मंचो पर अपनी बेइज्जती करा चुका है, भारत के खिलाफ बयान देना हर बार इमरान सरकार को भारी पड़ जाता है, हाल ही में पाकिस्तान के एक बाशिंदे ने इमरान सरकार का

जमकर मजाक भी उड़ाया था. टिक टॉक पर एक वीडियो जारी करते हुए शख्स ने कहा, कि इमरान खान को ‘नक्शा नहीं नशा बदलना चाहिए’ जिसके बाद नाराज इमरान खान ने उस शख्स को जेल भिजवा दिया, इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

ये भी पढ़ें:-अदनान सामी के इस tweet से पाकिस्तान में मच गया हड़कंप, सर्जिकल स्ट्राइक तक पहुंची थी बात, जानें वजह