Saturday, January 16, 2021

नाईजीरियाई वैज्ञानिक ने दी चेतावनी, कोरोना के और स्वरूप आएंगे सामने

लागोस। कोरोना महामारी से दुनिया अभी लड़ ही रही है कि इसके दूसरे स्वरूप आने की चेतावनी जारी हो गयी है। नाईजीरियो के वैज्ञानिक ने कहा कि कोरोना के और स्वरूप आ सकते हैं। ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका में सामने आए कोरोना वायरस संक्रमण के नए स्वरूप को लेकर दुनियाभर में बढ़ी चिंता के बीच नाइजीरिया के एक वैज्ञानिक ने कहा है कि कोविड-19 के अभी और कई नए स्वरूप सामने आएंगे। कई रूप सामने आने के साथ इसके परिणाम भी घातक होंगे। नाइजीरिया के वैज्ञानिक ओमिलाबू ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने के मद्देनजर देश में कोविड-19 के अलग प्रकार वेरिएंट के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए इसके नमूनों का आनुवांशिक विश्लेषण किया है। देश में इस संक्रमण को फैलने से रोकने में मदद मिल सके। उन्होंने और स्वरूप के आने के शोध से लोगों को सावधान कर बचाने की मुहिम में जुटे हैं। ओमिलाबू ने कहा कि ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका में वायरस के जो स्वरूप पाए गए हैं। वह नाइजीरिया में पाए गए स्वरूप से अलग हैं। उन्होंने कहा कि वायरस का अलग स्वरूप में बदलना कोई असाधारण बात नहीं है। वायरस जब अपना स्वरूप बदलने लगता है तो इलाज में परेशानी होती है।

यह भी पढेंः-प्रसंशक ने जब दीपिका से शादी की जताई इच्छा तो पति शोएब ने दिया करारा जवाब

ओमिलाबू ने कहा कि मुझे लगता है कि हमें अपना दिमाग शांत रखना होगा क्योंकि संक्रमण के और नए स्वरूप सामने आने वाले हैं। विषाणु वैज्ञानिक ओमिलाबू ने कहा कि देश में फैल रहे कोविड-19 संक्रमण के स्वरूप के बारे में जानकारी एकत्र करने से नाइजीरिया में इस बीमारी को फैलने से रोकने में मदद मिल सकती है। नाइजीरिया अफ्रीका का सबसे अधिक आबादी वाला देश है, जहां 19 करोड़ 60 लाख लोग रहते हैं। अफ्रीका रोग नियंत्रण एवं प्रबंधन केंद्र के रविवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, नाइजीरिया में संक्रमण के 89163 मामलों की पुष्टि हुई है। वायरस से अभी तक 1302 लोगों की मौत हो चुकी है।

लागोस यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ मेडिसिन एंड टीचिंग हॉस्पिटल में सेंटर फॉर ह्यूमन एंड जूनोटिक वायरोलॉजी के निदेशक ओमिलाबू ने कहा कि नाइजीरिया में संक्रमण के नए मामले बढ़ रहे हैं। अभी यह निश्चित नहीं है कि ये लोग संक्रमण के नए स्वरूप से संक्रमित हैं या नहीं। उन्होंने कहा कि अभी यह पता लगाने के लिए शोध करने की आवश्यकता है कि क्या संक्रमण के पहले से भी अधिक तेजी से फैलने का कारण देश में मिला इसका नया स्वरूप है या नहीं। उन्होंने वायरस के नये स्वरूप को लेकर चिंता जाहिर की है।

यह भी पढेंः-अमेरिका ने आतंकियों के खिलाफ ऐसी की नाकेबंदी कि संगठन हो गये कंगाल

Stay Connected

1,097,092FansLike
10,000FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles