किम जोंग उन की आंखों में आंसू, अचानक से रोकर मांगने लगा माफी, ये है बड़ी वजह

43

तानाशाह की दुनिया का वो चेहरा जिसे लोग किम जोंग उन कहते हैं। उत्तर कोरिया के दरख्त का एक पत्ता भी हिलने से पहले  किम जोंग उन की इजाजत लेना मुनासिब समझता है, लेकिन आपको यह जानकारी हैरानी हो सकती है। संभवत: आपको विश्वास भी न हो, मगर किंतु-परंतु को ताक पर ऱखते हुए आपको इस यकीन करने के लिए अब बाध्य होना पड़ेगा कि कल तक पूरे देश को अपने फरमान से संचालित करने वाला किम जोंग आज माफी मांगने पर मजबूर हो चुका है। ये भी पढ़े :किम जोंग उन की बिगड़ी हालत, ‘कोमा’ में है उत्तर कोरिया का तानाशाह, इस पूर्व राजनयिक ने बताई पूरी सच्चाई

कल तक.. अपने फरमान के दम पर अपनी बादशाहत कायम करने वाला किम जोंग उन आज इतना मजबूर हो चुका है कि वो अपने देशवासियों से माफी मांग रहा है। आपको यह जानकारी हैरानी हो सकती है कि एक तरफ जहां उसकी निगाहों से अश्कों की धारा बह रही थी तो वहीं दूसरी तरफ उसके हाथ कांपते हुए पूरे देश वासियों से माफी की गुहार लगा रहे थे। निगाहों में अश्कों क धारा.. जुबां पर खामोशी का चादर और दिल में उदासी के आलम ने मानों उसके सुरत व रंगत दोनों ही बदल कर रख दिए हो।

आखिर रिग्रेट क्यों फील हुआ?
अब सवाल यह है कि आखिर वो रोया क्यों? तो इसकी वजह है कोरोना वायरस। कोरोना वायरस के कारण जनित समस्याओं के चलते उसे लगा कि वो अपने लोगों की अपेक्षाओं के अनरूप काम न कर सका, जिससे इस दौरान उसके लोगों को अत्याधिक परेशानियों का सामना करना पड़ा। किम जोंग उन को लगा कि उसके लोगों को उससे बड़ी उम्मीदें थी, लेकिन अफसोस वो उन उम्मीदों पर खड़ा नहीं उतर पाया। जिस पर अपना अफसोस जाहिर करते हुए वो उत्तर कोरिया के स्थापना दिवस पर दिए गए अपने संबोधन में कई मर्तबा भावुक होता हुआ भी दिखा। इस दौरान उसने समस्त देश से माफी भी मांगी।

अपने पिता और दादा को भी किया याद
इस दौरान उसने अपने पिता और दादा को भी याद किया। उसने कहा कि  उसके पिता और दादा ने उसके पास इतनी विराट विरासत छोड़ी, लेकिन अफसोस वो देश के लोगों की दुश्वारियों का दूर करने में नाकाम रहा, जिसका उसे ताउम्र मलाल रहेगा। ये भी पढ़े :उत्तर कोरिया में बढ़ी भुखमरी को कुत्तों से किया जाएगा खत्म, तानाशाह ने दिया बड़ा आदेश