Taliban

काबुल। अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा होने के साथ ही क्रूरता का चेहरा लगातार सामने आ रहा है। अफगानिस्तान से भारतीय के लिए खौफनाक खबर आयी है। भारतीय कारोबारी का अपहरण कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि अफगान मूल के भारतीय नागरिक का अपहरण कर लिया गया है। इंडियन वर्ल्ड फोरम के अध्यक्ष पुनीत सिंह चंढोक ने बताया कि काबुल में अफगान मूल के एक भारतीय कारोबारी का बंदूक की नोक पर अपहरण कर लिया है। उनका नाम बंसरी लाल अरेन्देही है। बंसरी सिख समुदाय के हैं। बंसरी लाल अरेन्देही के अपहरण के बाद हड़कम्प की स्थिति हो गयी है। हालांकि अब तक ये बात साफ नहीं हो पाई है कि किसने उनका अपहरण किया है। ऐसा माना जा रहा है कि तालिबानी लड़ाकों ने ही उनको अगवा किया होगा। अभी तक किसी आतंकी संगठन ने अपहरण की जिम्मेदारी नहीं ली है।

पुनीत सिंह चंढोक ने बताया कि 50 साल के बंसरी की काबुल में दवा उत्पादन की दुकान है। उन्हें मंगलवार सुबह 8 बजे उनकी दुकान के पास से अगवा कर लिया गया। बंसरी के साथ उनके स्टाफ के लोगों को भी किडनैप कर लिया था लेकिन वो लोग किसी तरह किडनैपर्स के चंगुल से बच कर भाग निकले। बताया जा रहा है कि बंसरी के स्टाफ को बुरी तरह पीटा गया है।

पुनीत सिंह ने बताया कि बंसरी का परिवार दिल्ली-एनसीआर में रहता है। स्थानीय जांच एजेंसियों ने उनके अगवा होने का केस दर्ज कर लिया है और उनकी तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि भारतीय विदेश मंत्रालय को बंसरी के अपहरण की सूचना दे दी गई है। सरकार से इस मामले में तुरंत हस्तक्षेप और सहयोग करने की अपील की है।

यह भी पढ़ेंः-Taliban के खिलाफ Afghan महिलाओं ने शुरू किया प्रदर्शन, रखी ये मांग