Wednesday, January 20, 2021
Home दुनिया पाक के विदेश मंत्री भी मानते हैं कि इन परिस्थितियों में नही...

पाक के विदेश मंत्री भी मानते हैं कि इन परिस्थितियों में नही हो सकती बात

इस्लामाबाद। वर्तमान में पाकिस्तान आतंकियों की पनाहगाह के रूप में देखा जा रहा है। उसे दुनिया के देशों में नकार दिया गया है। आर्थिक स्थितियों के कारण पाकिस्तान की स्थिति कंगाली में पहुंच चुकी है। चीन से कर्ज लेकर अरब देशों को कर्ज चुकाया जा रहा है। ऐसे में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा है कि वर्तमान में जो हालात चल रहे हैं उनमें भारत के साथ कूटनीतिक वार्ता की कोई संभावना नहीं है। पाकिस्तान यह जानता है कि जब तक वह आतंकियों का वाहक बना रहेगा तब तक उससे बात नहीं की जाएगी। एक मीडिया रिपोर्ट में गुरुवार को यह कहा गया। नई दिल्ली अपने इस रुख पर कायम है कि वार्ता और आतंकवाद साथ-साथ नहीं चल सकते हैं। भारत सरकार इस्लामाबाद से बार-बार यह कहता रहा है कि वह भारत के खिलाफ हमले करने के लिए जिम्मेदार विभिन्न आतंकी समूहों के खिलाफ स्पष्ट कदम उठाए।

यह भी पढ़ेंः-पीएम मोदी को भाई मानने वाली करीमा ने मांगा था बलुचिस्तान के लिए आवाज

कुरैशी ने कहा कि वर्तमान हालात में भारत के साथ पीछे के दरवाजे से या फिर कूटनीतिक वार्ता की कोई संभावना नहीं है। इस वक्त संवाद के लिए परिस्थितियां उचित नहीं हैं। कुरैशी अपने गृहनगर मुल्तान में संवाददाताओं से बात कर रहे थे जब उन्होंने ये टिप्पणियां कीं। पठानकोट वायुसेना अड्डे पर 2016 में पाकिस्तान के आतंकवादी समूहों ने हमला किया था उसके बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच संबंध बेहद खराब हो गए।

इसके बाद उरी में भारतीय सेना के शिविर पर हमले समेत कई अन्य हमलों के चलते दोनों देशों के बीच संबंध रसातल में चले गए। पाकिस्तान के आतंकी गतिविधियों को जवाब भारत ने जोरदार तरीके से दिया। पाकिस्तान अब समझ चुका है कि दोहरी चाल नहीं चलेगी। पार्किस्तान लगातार सीमा पर सीज फायर का उल्लंघन करता है और भारतीय जवान उसका जवाब देते हैं।

यह भी पढ़ेंः-पहली बार रीतिका को देखकर रोहित शर्मा को आया था बेहद गुस्सा, युवराज सिंह ने भी दे डाली थी चेतावनी

Most Popular