बीजिंग। विदेशी पत्रकारों को चीन काम नहीं करने दे रहा है। चीन के हेनान प्रांत में रिकॉर्ड बारिश से हाल बेहाल है। मूसलाधार बारिश ने हेनान प्रांत को प्रभावित किया है, जिससे सैकड़ों हजारों लोग विस्थापित हुए हैं और 1.22 बिलियन युआन से अधिक का आर्थिक नुकसान हुआ है। चीन के हेनान में मूसलाधार बारिश के चलते आपदा का संकट गहराता जा रहा है। वहीं, इस बीच चीन के लोग विदेशी पत्रकारों को अपना काम करने से रोक रहे हैं। चीनी राज्य-मीडिया द्वारा चीनी शहरों में बाढ़ की कवरेज के लिए विदेशी मीडिया पर निशाना साधने के बाद, वहां के नागरिकों ने हेनान प्रांत के झेंग्झौ शहर की सड़कों पर कई अंतरराष्ट्रीय मीडिया आउटलेट्स के संवाददाताओं को परेशान किया।

एक रिपोर्ट के मुताबिक चाइनीज सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म वीबो विदेशी संवाददाताओं के कवरेज की आलोचना करने वाले गुस्से वाले पोस्टों से भरा हुआ था। चीनी शहरों में भारी बारिश और बाढ़ देखी जा रही है। बीबीसी के चीन संवाददाता रॉबिन ब्रांट की एक रिपोर्ट के लिए मुख्य रूप से आलोचना की गई थी, जिसमें बाढ़ के बीच एक ट्रेन के डिब्बे में एक दर्जन लोगों की मौत के बाद सरकार की नीतियों पर सवाल उठाया। ब्रांट ने पिछले शुक्रवार को एक रिपोर्ट में कहा था कि हम नहीं जानते कि उन्हें ऐसे बीच में क्यों छोड़़ दिया गया। उन्होंने कहा कि बीजिंग को अन्य स्थानीय सरकारों को अपनी तैयारियों और मेट्रो नियमों की जांच करने के लिए कहना चाहिए।

चीनी सोशल मीडिया यूजर्स ने ट्विटर जैसे वीबो प्लेटफॉर्म पर ब्रांट पर बाढ़ पर अपनी रिपोर्ट में ‘अफवाह फैलाने वाले विदेशी’ और ‘तथ्यों को गंभीर रूप से विकृत करने’ का आरोप लगाया। शनिवार को एक पोस्ट में लिखा गया कि बीबीसी रिपोर्टर रॉबिन ब्रांट हमारे शहर के आपदाग्रस्त इलाकों में कई बार सामने आए हैं और तथ्यों को गंभीर रूप से विकृत किया है। अगर आपको यह व्यक्ति मिल जाए, तो कृपया तुरंत पुलिस को फोन करें।

इसे भी पढ़ें:शादी का मजेदार वीडियो वायरल, स्टेज पर कबड्डी खेलने लगी दुल्हन