Sydney

अध्यापक का दर्जा दुनिया में सबसे ऊपर माना जाता है. संक्षिप्त में बोला जाए, तो अध्यापक को भगवान का रूप माना जाता है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया (Australia) में एक टीचर ने इस रिश्ते को तार-तार कर दिया. जिसके कारण मासूम का जीवन बर्बाद हो गया. बता दें कि ऑस्ट्रेलिया (Australia) की एक टीचर ने स्कूल में 14 साल के मासूम के साथ जबरदस्ती संबंध (Sexual Abuse) बनाए. अब इसका वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हो रहा है. कई महिनों तक ये सिलसिला ऐसे ही चलता रहा. पुलिस ने जब इस मामले की जांच की तो टीचर को आरोपी पाया गया. इसके पहले भी टीचर ने कई लड़कों के साथ कथित तौर पर यौन शोषण किया है.

सिडनी (Sydney) का है मामला

ये मामला ऑस्ट्रेलिया (Australia) के सिडनी (Sydney) शहर का है. दरअसल यहां पर एक 24 साल की महिला टीचर ने अपने ही 14 साल के नाबालिग और मासूम स्टूडेंट का यौन शोषण किया. इस घटना का खुलासा स्कूल में लगे सीसीटीवी कैमरे के कारण हुआ.

बच्चे को भेजी आपत्तिजनक फोटो

बता दें कि आरोपी टीचर ने लंच ब्रेक में मिलने से पहले मासूम को अपनी आपत्तिजनक तस्वीरें भी भेजी थी. इतना ही नहीं महिला टीचर ने बच्चे से उसकी गलत तस्वीरें भी मांगी थी.

आरोपी टीचर मोनिका एलिजाबेथ अन्य 10 मामलों में भी आरोपी पाई गयी हैं. उनपर 14-16 साल की बच्चे कई नाबालिग बच्चों के साथ जबरदस्ती संबंध बनाने का आरोप लगाया गया है. बीते साल 10 जुलाई को पुलिस ने टीचर मोनिका को अरेस्ट किया था.

सजा सुनाने से पहले टीचर के खिलाफ जज ने बच्चों का बयान पढ़ा. उसमें लिखा था कि उस टीचर के कारण उनकी जिंदगी खराब हो गयी है. जिसके कारण उनको स्कूल छोड़ना पड़ा. ऐसा इसलिए क्योंकि बाकी के बच्चे उनको चिढ़ाते थे.

मोनिका एलिजाबेथ को दोषी करार करते हुए कोर्ट ने 4 साल और 9 महीने की सजी सुनाई है. अब 2 साल और 5 महीने तक मोनिका को कोई भी पैरोल नहीं मिलेगी.

इसे भी पढ़ें-मनी प्लांट का पौधा घर में लगाने से पहले इन नियमों को जरूर रखें ध्यान, होगी धन की वर्षा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here