कश्मीर मामले पर चीन ने बोली पाकिस्तान की भाषा, कह दी ऐसी बात

0
1196
pak_china

पाकिस्तान की बौखलाहट इस समय देखते ही बन रही है। पहले धारा 370 फिर मिशन चंद्रयान-2। धारा 370 पर पाक की बौखलाहट कम नहीं हुई थी कि, अब उसे मिशन चंद्रयान-2 से मिर्ची लग गई है। क्योंकि, इस मिशन को विश्व के कई देशों ने बड़ी उपलब्धि बताई है। हाल ही में चीन के विदेश मंत्री वांग यी एक दिन के दौरे पर पाक पहुंचे हैं। यहां दोनों देशों के बीच बातचीत हुई। जिसके बाद संयुक्त बयान जारी किया गया। बयान में चीन ने कहा कि, वह किसी भी तरह की एकपक्षीय कार्रवाई का विरोध करता है और कश्मीर मुद्दे को शांति से ही सुलझाया जाना चाहिए।

पाक ने चीन के सामने रखी कश्मीर स्थिति
दरअसल, पाक ने चीनी मंत्री को जम्मू-कश्मीर की वर्तमान स्थिति के बारे में बताया। इस पर चीनी मंत्री ने कहा कि वो वहां की सारी स्थितियों पर नजरें बनाए हुए हैं। इस दौरान चीन ने भी पाक की भाषा में बोलते हुए कहा कि, कश्मीर ऐतिहासिक विवाद है। जिसे संयुक्त राष्ट्र घोषणापत्र, प्रासंगिक यूएनएससी प्रस्तावों और द्विपक्षीय समझौतों के आधार पर हल किया जाना चाहिए। साथ ही चीन एकपक्षीय कार्रवाई का विरोध करता है।

आपको बता दें, चीन हमेशा से ही पाकिस्तान की भाषा बोलता आया है। चीन पाक का सबसे खास दोस्त है। जो अक्सर पाक के साथ खड़ा रहता है। चीन ने सिर्फ कश्मीर पर ही नहीं बल्कि आतंकी मसूद अजहर पर भी पाक का समर्थन किया था। और वीटो पावर का उपयोग करके उसे बचाने की कोशिश की थी। लेकिन, चीन और पाक इन सारी कोशिशों पर सफल नहीं हो पाया। और मसूद अजहर को आतंकी घोषित किया गया। ये भी पढ़ेंः- पाक को चीन ने दिया धोखा, धारा 370 पर मोदी के समर्थन में उतरे रूस 

https://youtu.be/u2Igc-NAAHo

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here