अमेरिका के इस कदम से खौफ में चीन, अब साउथ चाइना सी में मचेगा बवाल! 

358

चाहे कोरोना का मसला हो या फिर भारतीय क्षेत्र का सीमा विवाद, अमेरिका शुरू से ही ड्रैगन की मुखालफत करता आ रहा है। अमेरिका हर उस कोशिश को अंजाम दे रहा है, जिसके मार्फत ड्रैगन की मनमानी मंशा पर शिकंजा कसा जा सके। उधर, अब खबर है कि अमेरिका ने चीन की मनमानी मंशा पर शिकंजा कसने के लिए साउथ चाइना सी में अपने बमवर्षक विमानों को तैनात कर दिया है। अमेरिका ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है, जब चीन का हस्तक्षेप  ताइवान की तरफ से लगातार बढ़ रहा है। ऐसी स्थिति में अमेरिका के द्वारा उठाया गया यह कदम खासा अहम माना जा रहा है।

ये भी पढ़े :बढ़ सकता है तनाव! अब देर रात चीन ने साउथ चाइना सी में बरसाए बम, ये थी बड़ी वजह 

अमेरिका के इंडो फेसेफिक कमान के मुताबिक, तीन B-2 स्प्रिट स्टील्थ बॉम्बर विमान को डियागो गार्सिया में तैनात किया गया है। माना जा रहा है कि इसे चीन की किसी भी हिमाकत का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए इसे तैनात किया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक, इसे करीब 29 घंटे की यात्रा के बाद इस विमान को तैनात किया गया है। 2016 के बाद ऐसा पहली बार होने जा रहा है, जब अमेरिका ने अपने बमवर्षक विमान को द्वीप पर तैनात किया है। उन्नत स्टील्थ तकनीक के साथ, बी -2 बम वर्षक विमान दुश्मन के रक्षा रडार को चकमा देने में सक्षम है। माना जा रहा है कि अमेरिका के इस कदम से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ सकता है।

याद दिला दें कि 16 अगस्त से चीन की सेना और ताइवान की नौसेना लगभग 340 मील के उत्तर में एक द्वीपसमूह पर युद्धभ्यास शुरू कर रही है। अभी कुछ दिनों पहले ही पीएलए ने युद्धभ्यास किया था। बता दें कि अमेरिका ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है, जब अमेरिका समेत कई यूरोपिय देशों को इस बात का खौफ सता रहा है कि चीन साउथ चाइना सी में अपने वर्चस्व को पूर्णत: स्थापित करना चाहता है।

ये भी पढ़े :साउथ चाइना सी पर चीनी सैनिकों ने जमाई धौंस! तो अमेरिका ने शुरू की युद्ध की तैयारी