बड़ा खुलासा: UN की रिपोर्ट का दावा, पाकिस्तान में सबसे ज्यादा हिंदुओं पर हो रहे हैं जुल्म

0
397
pak

भारत में मोदी सरकार ने जैसे ही नागरिकता संशोधन बिल को संसद पास करवाया है। देश में हंगामा मचा हुआ है। एक तरफ देश के कई शहरों में इस कानून का विरोध हो रहा है। इतना ही नही, पाकिस्तान ने भारत के इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठाया था। इस दौरान पाकिस्तान ने भारत में लागू हुए नागरिकता संशोधन कानून का विरोध किया और भारत पर अल्पसंख्यकों के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाया है लेकिन पाकिस्तान खुद कितना पानी में है ये अब साफ हो गया। पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की हालत पर संयुक्त राष्ट्र संघ ने एक रिपोर्ट जारी की है। जो बहुत ही हैरान करने वाली है।

इस रिपोर्ट में सिर्फ हिन्दी ही नहीं, बल्कि तमाम अल्पसंख्यक समुदाय की बात की गई है। रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि पाकिस्तान में हिन्दू समेत तमाम अल्पसंख्यक समुदाय की हालत बेहद ही बुरी है। उन्हें लगातार प्रताड़ित किया जा रहा है जिनके कई मामले समाने आ चुके है और अब इन मामलों में दिन-ब-दिन बढ़ोतरी हो रही है। इस रिपोर्ट में बच्चों का जिक्र करते हुए बताया गया है कि अल्पसंख्यक समुदाय के बच्चों को भी वहां शिक्षकों और सहपाठियों द्वारा अपमानित किया जाता है।

संयुक्त राष्ट्र की तरफ से जारी सीएसडब्ल्यू रिपोर्ट में पाकिस्तान में धार्मिक स्वतंत्रता के लिए 47 पन्नों में जिक्र किया गया है। जो बेहद ही भयावह है। इस रिपोर्ट में साफ कहा गया है कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों को बचाने की जगह इमरान खान की सरकार कट्टरपंथी को बढ़ावा दे रहे है। इतना ही नहीं, रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि पाकिस्तान में हिंदू और ईसाई समुदाय को सबसे ज्यादा प्रताड़ित किया जा रहा है। ये दोनों समुदाय हमेशा वहा के लोगों के निशाने पर रहते है। इन समुदाय के महिलाओं को अगवा किया जाता है और उनका जबरन धर्म परिवर्तन करवाया जाता है और फिर उनका जबरन मुस्लिम युवक के साथ शादी कर दी जाती है। ये भी पढ़ें:- भारत को घेरने की पाकिस्तान ने चली गंदी चाल, अमेरिका में इस प्रस्ताव को लेकर भेजा मंत्रिमंडल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here