सूरज से हजार गुना ज्यादा बड़े ‘बीटलग्यूज’ तारे में होगा खतरनाक विस्फोट, आप भी देखिए अद्भुत नजारा

0
46
TARA

आकाशगंगा में ‘बीटलग्यूज’ (Betelgeuse) सबसे ज्यादा चमकीला तारा है लेकिन अब ये चमकीला तारा भी अपनी चमक खो रहा है। बीटलग्यूज तारा आकाशगंगा में ओरायन तारामंडल का हिस्सा है। जो सबसे ज्यादा चमकता था। इस तारे की चमक लाल रंग की है लेकिन अब ‘बीटलग्यूज तारा’ अपनी जगह से सुपरनोवा चरण की ओर आगे बढ़ रहा है। जिस वजह से इसकी चमक खत्म हो रही है। इतना ही नही, बीटलग्यूज में अब विस्फोट की संभावना भी बनी हुई है और अगर ये विस्फोट हुआ। तो ये इतना शक्तिशाली होगा। कि बीटलग्यूज विस्फोट की वजह से हमेशा के लिए खत्म हो जाएगा।

स्लेट की एक रिपोर्ट सामने आई है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले कुछ महीनों में बीटलग्यूज की चमक कम हो रही है। जिस वजह से ही इसे 12वें सबसे चमकीले तारे से हटाकर अब 20वें स्थान पर किया गया है और अगर अब इस तारे में विस्फोट होता है। तो यह इंसानों को दिखाई देने वाला पहला सबसे पास का सुपरनोवा हो सकता है। CNET की रिपोर्ट है कि एडवर्ड गिनान द्वारा एकत्र किए गए आंकड़े भी सामने आए है। जिसके मुताबिक, विलेनोवा विश्वविद्यालय के एक खगोलविद ने बीटलग्यूज के बारे में बताया कि 430 दिनों के अंदर अपनी रोशनी खो देगा। अगर हमारे आंकड़े बिल्कुल ठीक है तो ये तारा 21 फरवरी तक अपनी चमक खो देगा। और सबसे कम चमक वाला तारा बन जाएगा।

हालांकि और भी कई खगोलविदों ने बीटलग्यूज तारे पर अपनी राय दी है। जिमसें ज्यादा खगोलविदों का मानना है कि बीटलग्यूज अब अपने पतन की तरफ बढ़ चुका है। ये तारा इतनी तेज आगे बढ़ रहा है कि इसमें विस्फोट होना संभव माना जा रहा है। जिस वजह से इसका पतन हो जाएगा। दिलचस्प बात तो ये है कि बीटलग्यूज तारा सूरज से भी हजार गुना बढ़ा है और अगर ये हमारे सौरमंडल में आता है तो बृहस्पति ग्रह की कक्षा से भी ज्यादा बड़ होगा। जिस वजह से इस तारे को सुपरजायंट्स कहा जाता है। ये भी पढ़ें:-अद्भुत है मातारानी का ये मंदिर, यहां तेल-घी से नहीं बल्कि पानी से जलता है दीपक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here