बालाकोट हमले के सबूत मांगने वाले पढ़ लें, अमेरिका के एक्टिविस्ट ने किया बड़ा खुलासा

0
356

भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी ठिकानों को एयरस्ट्राइक करके तबाह किया, जिसमें 200-300 आतंकी ढेर हो गए. हालांकि, पाकिस्तान इस बात को मानने से बराबर इंकार कर रहा है. लेकिन उसका झूठ सबके सामने आ गया है. दरअसल, ऊर्दू मीडिया में जो खबरें आई हैं उसके अनुसार इंडियन एयरफोर्स की एयरस्ट्राइक के बाद बालाकोट से कुछ शवों को खैबर पखतूनख्वा और पाकिस्तान के कबायली इलाकों में भेजा गया.

अमेरिका में रहने वाले और गिलगित से ताल्लुक रखने वाले सेंगे हसनान सेरिंग ने सोशल मीडिया पर जानकारी देते हुए ट्वीट किया. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा ‘पाकिस्तान के सैन्य अधिकारी ने कबूल किया है कि बालाकोट पर हुए भारतीय हमले में 200 से ज्यादा आतंकवादी ‘शहीद’ हुए हैं. आतंकवादियों को मुजाहिद कहा गया है. पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर सरकार के समर्थन में युद्ध करने से उन्हें अल्लाह से विशेष जीवनाधार मिलता है. उनके परिवारों की मदद की कसम खाते हैं.’ सेरिंग ने अपने एक बयान में कहा कि ‘मुझे ये नहीं मालूम कि इस वीडियो की सच्चाई क्या है, लेकिन पाकिस्तान निश्चित तौर पर बालाकोट में हुए कुछ महत्वपूर्ण चीज को छिपा रहा है.’

साथ ही सेरिंग के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद का दावा है कि वहां उसका मदरसा मौजूद था. गौरतलब, है कि पाकिस्तान का कहना है कि भारतीय वायुसेना द्वारा की गई एयरस्ट्राइक में जंगल और खेतों को ही कुछ नुकसान पहुंचा है. वहीं इसके बाद पाक ने यहां किसी के भी जाने पर रोक लगा दी. ये भी पढ़ें: कर्नाटक में येदियुरप्पा का खुला ऐलान, 22 सीटें जीतते ही 24 घंटे के भीतर बनेगी बीजेपी सरकार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here