अफगानिस्तान के काबुल में एक के बाद एक दागे गए 23 रॉकेट, कई लोगों की मौत, तालिबान पर धमाके का आरोप

Bomb blast in kabul

आतंकियों की खतरनाक साजिश से एक बार फिर अफगानिस्तान की राजधानी काबुल (Kabul) थर्रा उठी है. दरअसल शनिवार को अचानक से एक के बाद एक हुए धमाकों (Blast) से पूरी राजधानी हिल चुकी है. इस खबर की जानकारी एएफपी की ओर से दी गई है. बताया जा रहा है कि, ये सारे धमाके शहर के बीचों बीच बसे ज्यादा आबादी वाले इलाकों में हुए हैं. इस बारे में देश के आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता तारिक आरियान की ओर से बताया गया है कि, ‘आतंकवादियों ने काबुल शहर पर कुल 23 रॉकेट छोड़े हैं.’ आगे बातचीत में उन्होंने ये भी बताया कि, ‘शुरुआती जांच में ये पता चला है कि, इस हमले में 8 लोग शहीद हो गए हैं और 31 लोग घायल हैं.’ इस हमले की साजिश के पीछे तारिक ने तालिबान को बताया है.

ये भी पढ़ें:- आतंकी हमले में कुछ घंटो पहले जन्मी बच्ची को लगी गोली, फिर हुआ ये बड़ा चमत्कार

दरअसल चहल सुतून और अरजान में हुए दो खतरनाक धमाकों के कुछ ही देर बाद काबुल के कई इलाकों में रॉकेट दागे गए. टोलो न्यूज के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक मंत्रालय का कहना है कि, काबुल के वजीर अकबर खान, शहर-ए-नाव इलाके के साथ ही चहर काला, पीडी 4 में गुल-ए-सुर्ख, सदारत गोल रोड, शहर के बीच स्थित स्पिंजर रोड, नेशनल आर्काइव रोड के पास पीडी2 में और काबुल के उत्तरी इलाके में बसे लीसी मरियम बाजार और पंजसाद परिवार इलाके में भी रॉकेट छोड़े गए थे.

हालांकि इस तरह के मसले पर अभी तक अधिकारियों की ओर से कोई ऑफिशियल जानकारी साझा नहीं की गई है. लेकिन दूसरी तरफ आंतरिक मंत्रालय ने बयान दिया है कि, शनिवार की सुबह दो छोटे ‘स्टिकी बॉम्ब’ के जरिए धमाका किया गया था. इनमें से एक का निशाना पुलिस की कार बनी थी, जिसमें एक पुलिसकर्मी को अपनी जान से हाथ भी धोना पड़ा था. इसके अलावा धमाके में तीन लोग और भी घायल हो गए थे.

फिलहाल धमाके से संबंधित कुछ तस्वीरें इस समय सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है. इन तस्वीरों में देखा जा सकता है कि, कैसे रॉकेट की वजह से भवनों में छेद हो गया है. हालांकि इन तस्वीरों में कितनी सच्चाई है अभी इसकी जानकारी हाथ नहीं पाई है. यही नहीं ये धमाका किसने और क्यों करवाया है, अभी तक इसकी जिम्मेदारी भी किसी संगठन की ओर से नहीं ली गई है.

ये भी पढ़ें:- लॉकडाउन में एक्टिव हुए 400-500 आतंकी, भारत में तबाही के लिए रचा ये ‘षड्यंत्र’