डरावनी हो गई है कोरोना की रफ्तार! 1 महीने में दर्ज हुए 11 लाख केस, दे रहें हैं इन राज्यों में बड़े संकेत

113

दुनिया में कोरोना वायरस की रफ्तार अब और डरावनी होती चली जा रही हैं, चूंकि इस महामारी ने अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा पार कर लिया है. बता दें कि अब तक विश्वभर में कोविड-19 से ग्रसित मरीजों का आंकड़ा 17,758,804 यानि की डेढ़ करोड़ से भी अधिक लोगों की इस वायरस ने अपनी चपेट में ले लिया है, जबकि मौत का ग्राफ हैरान कर देने वाला है. दरअसल कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 6,82,999 पहुंच गई है. जो इतिहास की सबसे बड़ी त्रासदी साबित हुई है. आमतौर पर किसी बीमारी से इतनी बड़ी तादाद में जानें जाना अपने आप में ही एक बड़ी बात है लेकिन कोरोना वायरस ने जो तबाही मचाई है उसने लोगों की जिंदगी बर्बाद कर दी। वहीं इस महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले देश अमेरिका, इटली, ब्राजील, ब्रिटेन, रूस, स्पेन और भारत भी इस लिस्ट में शामिल हो गया है।

ये भी पढ़ें:-इन पांच राज्यों में ही क्यों कोरोना ने मचाई तबाही?, दे रहे हैं ये बड़े संकेत!

बता दें कि भारत में अब तक कोरोना वायरस मरीजों का कुल आंकड़ा 17 लाख के अधिक पहुंच चुका है, हैरानी की बात यह है कि इसमें से सिर्फ जुलाई महीने में 11 लाख से अधिक लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. जो सरकार से लेकर वैज्ञानिकों के लिए एक चिंता का विषय बना हुआ है. हालांकि इससे पहले कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हजारों में ही था, लेकिन बीते कुछ ही दिनों में इस महामारी ने विकराल रूप ले लिया. देखते-देखते संख्या लाखों में पहुंच गई।

शुक्रवार को भारत में कोरोना ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़े और एक दिन में 55 हजार से अधिक मामले दर्ज किए गए. इस तरह से 31 जुलाई तक के आंकड़ों को मिला लें तो जुलाई महीने में कोरोना वायारस के 11.1 लाख पॉजिटिव केस सामने आए, जबकि 19122 लोगों की इलाज के दौरान मौत हो चुकी है।

मालूम हो कि कोरोना वायरस से मौत के मामले में दुनियाभर में भारत पांचवें नंबर पर पहुंच गया है, अब तक 36,511 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं अगर राहत की बात करें तो 10,57,805 लोगों को रिकवर किया जा चुका है. यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा संक्रमित राज्यों में पहले नंबर पर महाराष्ट्र राज्य है, जहां

कोविड-19 के 4 लाख 12 हजार से भी ज्यादा केसेज हैं, वहीं दूसरे नंबर पर दिल्ली 1 लाख 34 हजार केस हैं, इसके बाद आंध्रप्रदेश है जहां 1 लाख 31 हजार कोरोना के केस हैं, गुजरात, यूपी, केरल, मध्य प्रदेश इन राज्यों में कोरोना के सबसे ज्यादा एक्टिव केस पाए गए हैं।

ये भी पढ़ें:-बन गई कोरोना की वैक्सीन! पहले ट्रायल में वैज्ञानिकों को मिली बड़ी सफलता