हिंदी सिनेमा जगत में एक ऐसी भी एक्ट्रेस( Actress) थी जिन्होंने कई सारी फिल्मों में सपोर्टिंग किरदार निभाए और अपनी एक अलग पहचान बनाई। बाकी हिरोइनों को उनसे डर लगता था कि कहीं उनका बोलबाला कम ना हो जाए। केवल इतना ही नहीं इस ऐक्ट्रेस ने फिल्मों में सबसे ज्यादा रेप सीन भी शूट किये। 60 और 70 के दशक में इस ऐक्ट्रेस ने हिंदी फिल्मों में काम किया और धमाल मचाया । इस ऐक्ट्रेस का नाम था नाजिमा (Nazima)। उस दौर में नाजिमा (Actress Nazima) भले ही हर निर्माता-निर्देशक की पहली पसंद हुआ करती थीं, लेकिन उन्हें कभी भी किसी फिल्म में लीड रोल नहीं दिया गया। फिल्ममेकर या तों उनको हीरो की बहन या (Nazima played sister roles) फिर हिरोइन की दोस्त का रोल देते थे। यही बात जीवन भर इस ऐक्ट्रेस नाजिमा के दिल में समा गयी।

नाजिमा का करियर

Actress Nazima ने Bollywood में दिए थे सबसे अधिक रेप सीन, पढ़िए इनकी कहानी

अपने करियर की शुरुआत नाजिमा (Nazima) ने साल 1954 में फिल्म ‘ब्रज बहू’ से की। उस समय वो एक चाइल्ड आर्टिस्ट थीं। जब वे बड़ी हुईं तो उन्होंने एक हिरोइन बनने का सोचा और यह सपना साल 1958 में आई फिल्म ‘प्रिंसेज साबा’ में पूरा भी हो गया। पर उनको ये ना पता था कि प्रोड्यूसर्स और फिल्मेकर्स उन्हें हिरोइन नहीं बल्कि ‘हीरो की एक आदर्शवादी बहन’ के रोल में रखेंगे। न जाने क्यों उस दौर का हर फिल्ममेकर नाजिमा को हीरो की बहन या दोस्त के रोल में रखने लगा। इसका नतीजा ये निकला कि नाजिमा को बॉलीवुड की ‘रेज़िडेंट सिस्टर’ भी कहा जाने लगा। नाजिमा ने उस दौर के हर एक बड़े स्टार के साथ काम किया था।

फिल्मों में सबसे ज्यादा शूट किये रेप सीन

बहन का रोल निभाने के कारण नाजिमा को इसका भुगतान भी करना पड़ता था. बता दें कि 60 और 70 के दशक के उस समय में लगभग हर फिल्म में एक रेप सीन अवश्य ही शामिल किया जाता था। उस समय फिल्मों में औरतों के शोषण और सामाजिक उत्पीड़न को भी खुल के दिखाया जाता था। इसी कारण से उस दौर की फिल्मों में रेप सीन काफी होते थे। नाजिमा को जो भी फिल्म ऑफर की जाती थी, उसमें उन्हें बहन का रोल दे दिया जाता और रेप सीन भी उनको शूट करने पड़ते थे। मजबूरी में इंसान को सब कुछ करना पड़ता था । ऐसा ही कुछ नाजिमा के साथ भी था।

कुछ ऐसे छलका था नाजिमा का दर्द

ये बात नाजिमा को पसंद नहीं थी, मन में हमेशा ही लीड रोल करने की चाह थी। वो ये सोचती था कि एक ना एक दिन उनको लीड रोल जरूर मिलेगा। इसी कारण जो रोल मिला वो करती गयी। लेकिन समय बीतने के साथ साथ ये बात नाजिमा के दिल में समा गयी कि आखिर कोई भी फिल्ममेकर उनको लीड हिरोइन का रोल क्यों नहीं दे रहा? कोई उन्हें अपनी फिल्म की हीरोइन क्यों नहीं बनाना चाहता? नाजिमा का यह दर्द एक इंटरव्यू में सामने आया था ।

टॉप ऐक्ट्रेस ना बन पाने का रहेगा अफसोस

उस इंटरव्यू में नाजिमा ने कहा था, ‘जो मेरे डायरेक्टर मुझसे करने के लिए कहते हैं, मैं वैसा ही करती हूं। अब तक किसी भी डायरेक्टर को ऐसा नहीं लगा कि मैं लीड हिरोइन बन सकती हूं। अब तो बस यही कर सकती हूं कि मुझे लगातार काम करना होगा ताकि मैं फिल्मों में बनी रहूं, नहीं तो बेरोजगार हो जाऊंगी। जब आपके पास कोई न कोई नौकरी होती है तो एक उम्मीद भी रहती है कि एक दिन आपको मौका मिलेगा। अभी तो सफलता सिर्फ एक भ्रांति लगती है। पर एक दिन मैं जरूर सफल होऊंगी।’

शो ‘तबस्सुम टॉकीज’ में भी एक बार ऐक्ट्रेस तबस्सुम ने इस बारे में कहा था कि नाजिमा ने उनसे अपने इस दुख के बारैे में बताया था कि, ‘मुझे इस बात का अफसोस जिंदगी भर रहेगा कि मैं टॉप मोस्ट ऐक्ट्रेस नहीं बन पाई।’

1975 में छोड़ दी फिल्मी दुनियां और बना ली दूरी

लेकिन नाजिमा का इंतजार ही रह गया। साल 1975 में नाजिमा ने फिल्मी दुनिया को अलविदा कह दिया। वो खुद पब्लिक से भी दूर कर ली। इस समय नाजिमा कहां है इसके बारे में किसी को कुछ नहीं पता है। पर साल 2009 में अपने एक शो में तबस्सुम ने इस बारे में बताया था कि नाजिमा की उम्र अब 70 से अधिक हो गयी है और वो अधिकतर समय अल्लाह की इबादत करने में देती है। नाजिमा ने नेवी कैप्टन अर्शुल रहमान से शादी की और उनके दो बेटे हैं। दोनों की शादी हो चुकी है। उनके शौहर का साल 2018 में इंतकाल हो गया था।

इसे भी पढ़ें-आने वाले 3 से 5 सालों में सोने की कीमतों में आएगा भारी बदलाव, जानें कम होंगी या सस्ती?