11 की उम्र में काम से लेकर रातों-रात हिट और पागल बनने तक, ऐसा रहा एक हसीन ‘खलनायिका’ का सफर

88
actress shashikala Worked as a Maid- slept on Footpath

हिंदी सिनेमा में जब भी बात खूबसूरत खलनायिकों की होती है. तो सबसे पहले आंखों के सामने 70 के दशक की हिट एक्ट्रेस शशिकला का चेहरा आता है. शशिकला ने फिल्मों में हीरोइन और वैम्प दोनों तरह का किरदार निभाया और जब मौका मिला तो खुद एक उम्दा डांसर के रूप में भी पेश किया. शशिकला ने अपने फिल्मी करियर में 100 से ज्यादा बॉलीवुड फिल्मों में काम किया है. शशिकला एक हिट एक्ट्रेस जरूर थीं लेकिन उन्होंने प्रोफ़ेशनल लाइफ के साथ-साथ पर्सनल लाइफ में भी बहुत दुख झेले. एक वक्त तो ऐसा आया जब उन्हें 8 दिनों तक खाना नहीं मिला और फुटपाथ पर सोना पड़ा.

8 दिनों तक नहीं मिला खाना

शशिकला एक मराठी परिवार में जन्मी थी और उनका बचपन सारी सुख-सुविधाओं के बीच गुजरा था. क्योंकि शशि के पिता का सोलापुर कपड़ों का एक बड़ा बिजनेस था. इस वजह से उन्होंने आर्थिक तंगी का कभी सामना नहीं किया था. लेकिन शशि के पिता का परिवार के प्रति इस कदर लगाव था कि परिवार के लिए वह दिवालिया होने की कगार पर आ पहुंचे थे. एक इंटरव्यू में शशिकला ने बताया था कि,shashikala ‘मेरे पिता ने चाचा के बेटे को इंग्लैंड पढ़ाई के लिए भेज दिया था और हम 6 भाई-बहन थे. पापा अपने खुद के परिवार से ज्यादा भाई की जरूरतों को देखते थे और सारी कमाई पढ़ाई के लिए भेजने लगे थे. एक समय आया जब उसकी अच्छी नौकरी लगी और वो हमें भूल गया. इसी दौरान पापा के बिजनेस को भी बड़ा घाटा हुआ और दिवालिया हो गए. वह दिन जीवन के इतने मुश्किल थे कि हमें करीब आठ दिनों तक खाना नहीं मिला था.’

11 की उम्र में शुरू किया काम

परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने के बाद शशिकला के पिता से लोग कहते कि, वह देखने में सुंदर भी है और एक्टिंग भी अच्छी कर लेती है तो इसे फिल्मों में ट्राई करवाइए.shashikala-life-story लोगों की बातों को सुन और परिवार की स्थिति को संभालने के लिए शशिकला ने सिर्फ 11 साल की उम्र में काम करना शुरू कर दिया और आ गई मुंबई.

लोगों के घरों में काम करने लगीं शशिकला

फिल्मी बैकग्राउंड नहीं होने की वजह से शशिकला को काफी कोशिशों के बाद भी काम नहीं मिला और उम्र भी कम थी. ऐसे में उन्हें पेट पालने के लिए लोगों के घरों में काम करना पड़ा इसी दौरान उनकी मुलाकात एक्ट्रेस और सिंगर नूरजहां से हुई और एक्ट्रेस नेshashikala-actress-life-story अपने पति से कहकर शशिकला को इंडस्ट्री में काम दिलवाया. शशिकला को 1945 में फिल्म ‘जीनत’ में काम खरने के लिए 25 रुपए मिले थे. लेकिन वह रुकी नहीं और कई फिल्मों में काम किया. एक वक्त ऐसा आया जब वह सुपरहिट एक्ट्रेस बन गई.

पति का पागलपन और कर्ज

एक सफल एक्ट्रेस बनने के बाद शशिकला ने एक्टर केएल सहगल के रिलेटिव ओम प्रकाश सहगल से शादी रचा ली. कुछ समय तक दोनों की शादीशुदा जिंदगी काफी अच्छे से गुजरी और इसी बीच पति को फिल्म बनाने का पागलपन चढ़ा.actress shashikala पागलपन इस कदर हावी था कि फिल्म ‘करोड़पति’ बनाते-बनाते कर्ज में डूब गए. उस समय शशिकला को जो फिल्म मिलती वह करती जिससे पैसा आ सके. उन्होंने छोटा सा छोटा रोल करने में भी ऐतराज नहीं था.

‘बुरी औरत’

पति की आर्थिक स्थिति को संभालने के लिए शशिकला पूरी मेहनतर करती थीं. इस बीच राजश्री प्रोडक्शन की फ़िल्म ‘आरती’ में उन्होंने नेगेटिव रोल का ऑफर आया. वैसे तो शशिकला नेगेटिव रोल से परहेज करती थीं मगर स्थिति को देखते हुए उन्होंने वैम्प का रोल किया औरactress shashikala buri auratफिर तो वह दर्शकों के बीच छा गई. भले ही दर्शकों ने उन्हें ‘बुरी औरत’ के रूप में प्यार दिया. लेकिन स्थिति संभली और इसी दौरान पति संग रिश्तें में खटास आई और वह चली गई विदेश.

विदेश से भागीं

पति के साथ होने वाले लड़ाई-झगड़ों से परेशान होकर शशिकला ने अलग होने का फैसला किया और एक दिन अपनी दो बेटियों और पति को छोड़कर एक शख्स के साथ विदेश भाग गई. जो उनके जीवन की शायद की सबसे बड़ी गलती बनी.Actress Shashikala-mother-teresaएक इंटरव्यू में खुद शशिकला ने बताया था कि, ‘जिस शख्स के साथ मैं विदेश गई, उसने मुझे मेंटली और फिजिकली खूब टॉर्चर किया. बड़ी मुश्किल किसी तरह खुद बचाकर भारत लौटीं.’

पागलों की तरह सड़क पर घूमीं

विदेश में मिले धोखे से शशिकला बुरी तरह टूट गई थीं और किसी तरह भारत तो लौट आई थीं. मगर उनकी मानसिक स्थिति खराब हो चुकी थीं और वह पागलों की तरह सड़कों पर घूमने लगी थीं. कभी-कभी तो फुटपाथ पर ही सोती थीं और अगर कोई राह चलता आदमी खाने के लिए कुछ दे देता था तो उसे खा लेती थी.Actress_Shashikala-life-struggle शशिकला अपने जीवन में शांति चाहती थी और इसके लिए वह कई जगह भटकती रहती थीं. मगर उन्हें शांति कोलकाता मदर टेरेसा के आश्रम में जाकर मिली. यहां उन्होंने लोगों की खूब सेवा की. शशिकला जब ठीक हुई तो उन्होंने मुंबई लौटने का फैसला किया.

बेटी की बेटियों की जिम्मेदारी

जिस शख्स के लिए शशिकला ने अपनी दोनों बेटियों को अकेले छोड़ दिया था जब उन्हीं में से एक बेटी के बारे में शशिकला को मुंबई आकर पता चला कि बड़ी बेटी को कैंसर है. जिसकी दो बेटियां थीं और दो साल कैंसर से जूझने के बाद उसका निधन हो गया तो शशिकला ने बेटी को बेटियों यानि नातिनों को संभालने का जिम्मा उठाया.actress shashikala उन्होंने फिर से एक्टिंग में में आने का फैसला किया औरदूसरी पारी की शुरुआत छोटे पर्दे से की. कहा जाता है अब शशिकला एक्टिंग से दूर अपनी दुनिया में खुश हैं और खबरों के मुताबिक अपनी नातिन के साथ पुणे में रहती हैं. लेकिन एक हसीन एक्ट्रेस जिसकी खूबसूरती की दुनिया दिवानी थी उसे अपने गलत फैसलों के कारण इतने दुख झेलने पड़े थे.

ये भी पढ़ेंः- रातों-रात सुपरस्टार से नशा और वेश्यावृत्ति तक का सफ़र, ऐसे हुआ एक हसीन एक्ट्रेस का दर्दनाक अंत