Categories
मनोरंजन

‘कन्हैया कुमार’ के लिए चुनाव प्रचार कर रही स्वरा भास्कर के हाथ से छिने ये बड़े ब्रांड्स!, जानें वजह

बॉलीवुड की एक्ट्रेस स्वरा भास्कर इन दिनों लोकसभा चुनाव में कुछ युवा प्रत्याशियों का चुनाव प्रचार करती हुई नजर आई थीं. और शायद यही वजह है कि उनके हाथों से चार ब्रांड्स का काम छिन गया है. जानकारी के मुताबिक चुनावी प्रचार की वजह से स्वारा को काम देने वाले ब्रांड्स ने उनसे कॉन्ट्रैक्ट वापस ले लिया.

गौरतलब है कि हाल ही में स्वरा भास्कर ने जेएनयू के छात्र नेता कन्हैया कुमार का चुनाव प्रचार में खुलकर समर्थन किया था. इसके अलावा स्वरा ने आप उम्मीदवार आतिशी और राघव चड्ढा व सीपीएम प्रत्याशी अमर राम के लिए भी प्रचार समर्थन में उतरी थीं. बता दें कि जेएनयू के छात्र कन्हैया कुमार बिहार के बेगुसराय लोकसभा से बतौर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) से चुनाव लड़ रहे हैं. और उन्ही का समर्थन करने के लिए स्वरा लोकसभा क्षेत्र में उनका प्रचार करने के लिए गई थीं.

हालांकि हाल ही में अपनी आने वाली फिल्म ‘शीर कोरमा’ के पोस्टर लॉन्चिंग के दौरान स्वरा ने कहा था कि सामाजिक और राजनीतिक विषयों पर फिल्म बनाने को लेकर बॉलीवुड थोड़ा जिम्मेदार हुआ है. और आगे उन्होंने बातचीत के दौरान कहा कि बॉलीवुड पर इस बात की बड़ी जिम्मेदारी है कि वह समाज को क्या दे रहा है.

स्वरा भास्कर के मुताबिक “मैं समझती हूं कि यही वो वक्त है जब बॉलीवुड और दूसरी भाषाओं के सिनेमाकारों को इस बात को लेकर थोड़ा और ज्यादा संवेदनशील होने की जरूरत है. क्योंकि इन बातों के लिए ये सही वक्त है जब फर्क पड़ रहा है कि सिनेमाकार किन मुद्दों को उठा रहा है. और अब ये जरूरी हो गया है कि फिल्मों में भी धर्म, जाति और लैंगिक विषमताओं पर बात होनी चाहिए.”कन्हैया कुमार के लिए प्रचार करेंगे जावेद अख्तर, बेगूसराय सीट पर महासंग्राम!

स्वरा भास्कर के मुताबिक, “मेरे स्तर पर पूछें तो वाकई मेरे रास्ते अलग हैं. लेकिन अगर अल्पसंख्यक लोग कहते हैं कि देश में असहिष्णु ता है तो उनकी बात भी सुनी जानी चाहिए. आप केवल इस आधार पर उनकी बात को अनसुनी नहीं कर सकते कि आप अल्पसंख्यक नहीं हैं. अगर कोई दलित कहता है कि मैं डरा हुआ हूं, मुझे लिंचिंग होने का भय है तो उसकी बात को सुना जाना चाहिए. इसे कतई इस तरह से नहीं देखा जाना चाहिए कि आपके साथ नहीं हुआ है तो आपको इससे क्या मतलब है. हमें उनको सुनने की जरूरत है.”

लोकसभा के चलते स्वरा से छिना काम
आपको बता दें कि कि हाल में जब स्वरा से सार्वजनिक जीवन जीने और राजनैतिक मामलों पर खुलकर टिप्पणी करने वाले राजनेताओं के बारे में सवाल किया गया तो उन्हेंने इसका जवाब देते हुए कहा- “जिस दिन मैं लोकसभा चुनाव 2019 में कुछ प्रत्याशियों के लिए चुनाव प्रचार को गई, उसी दिन मेरे हाथ से चार ब्रांड निकल गए, और तो और मैनें तीन इवेंट खो दिए. असल में सार्वजनिक जीवन जीने के दौरान कई चीजें दांव पर लगी होती हैं. कई बार किसी सुपरस्टार के किसी बयान के बाद उसकी कार पर पत्थवर फेंके जाते हैं. गौर करें तो पाएंगे कि बतौर स्टार जीवन जीते वक्त खुद की जिंदगी, परिवार और करियर लगातार दांव पर लगे होते हैं. लेकिन एक बेहतर समाज की जिम्मेदारी है कि वो सबको मौका दे.”ये भी पढ़ें कन्हैया कुमार को स्वरा भास्कर ने दिया नया नाम आप भी जानिए

Leave a Reply

Your email address will not be published.