सुशांत सिंह ने 1 महीने में क्यों बदले 50 सिम कार्ड, शेखर सुमन ने कहा- हत्या के चांस? हो CBI जांच

0
112

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही तमाम तरह के सवाल फिल्म इंडस्ट्री को लेकर उठ रहे हैं. कईयों का कहना है कि सुशांत सिंह की मौत आत्महत्या नहीं हत्या है?. जिसकी पुलिस इन्वेस्टिगेशन भी की जा रही है. हालांकि सुशांत सिंह की पीएम रिपोर्ट यह कहती है कि सुशांत की मौत गला दबने की वजह से हुई है यानि की फांसी का फंदा सुशांत की मौत की वजह बना?, अब ऐसे में सवाल यह है कि सुशांत सिंह आखिर खुद को फांसी क्यों लगाएंगे?. क्या वजह थी सुशांत के फांसी लगाने की?. चूंकि यह सारे सवाल मीडिया से लेकर फैंस, नेता और अभिनेता उठा रहे हैं. लेकिन अभी तक सुशांत सुसाइड की मिस्ट्री नहीं सुलझ पाई है. बहरहाल इस बीच हाल ही में एक्टर, प्रोड्यूसर शेखर सुमन ने सुशांत सिंह राजपूत के घर जाकर उनके पिता से बातचीत की और सरकार से इस केस में सीबीआई जांच करवाने की बात कही. सुशांत के सुसाइड पर एक्टर ने कहा कि मुझे ऐसा लगता है ये सुसाइड नहीं बल्कि एक मर्डर केस है. चूंकि अगर यह सुसाइड होता तो उनके पास से कोई सुसाइड नोट बरामद होता. लेकिन पुलिस को उनके पास से कोई सुसाइड नोट प्राप्त नहीं हुआ है. जिससे इस केस में सुसाइड कम हत्या के ज्यादा चांस लग रहे हैं.

ये भी पढ़ें:-महाकाल के बहुत बड़े भक्त थे सुशांत सिंह, इस वीडियो में किया मंत्र का उच्चारण, हुआ वायरल

इससे पहले सुशांत सिंह की मौत को लेकर फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत भी इस केस को प्लान मर्डर बता चुकी हैं. जिसके बाद से बॉलीवुड पर कई तरह के सवाल खड़े हो गए थे. सुशांत के मौत की एक वजह डिप्रेशन भी बताई जा रही है. जिसको लेकर कई सेलेब्स और राजनेताओं ने सुशांत सुसाइड केस की सीबीआई जांच की मांग की है.

sushant-singh

बता दें कि शेखर सुमन सुशांत की मौत के बाद उनके परिवार से मिलने पटना पहुंचे थे, इस दौरान उन्होंने सुशांत सिंह को इंसाफ दिलाने के लिए जस्टिस फॉर सुशांत फोरम की शुरूआत की है. वहीं सुशांत के पिता से मिलने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने उन मुद्दों को उठाया, जो ये इशारा कर रहे हैं कि ये सुसाइड नहीं मर्डर है?. इस केस की मिस्ट्री को खोले जाने को लेकर शेखर सुमन भी सरकार से सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि सुशांत के गले पर निशान, उनका सुसाइड नोट न छोड़ना किसी साजिश के तहत किए द्वारा काम हैं.

shekhar-suman

और तो और सुशांत ने आखिर क्यों पिछले एक महीने में 50 सिम कार्ड बदले थे. जो जांच का विषय है. प्रेस कॉन्फ्रेंस में शेखर सुमन ने कहा कि घर पर कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. अगर सुसाइड नोट होता तो यह ओपन एंड शट केस हो जाता. उसी वक्त ये केस खत्म हो जाता. लेकिन जिस तरीके से चीजें छिपाई गई हैं, उस पर सीबीआई जांच होनी चाहिए. तभी इन सब चीजों पर से पर्दा उठ पाएगा.

ये भी पढ़ें:-यादों में सुशांत सिंह, बहन श्वेता ने दी अंतिम विदाई, इमोशनल नोट के साथ शेयर की तस्वीर