CBI को सौंपा गया सुशांत सिंह का केस, केंद्र ने दी बिहार सरकार के सिफारिश को मंजूरी

119
CBI will investigate Sushant case

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत का सुसाइड केस (Sushant Singh Rajput Suicide Case) नए खुलासे के साथ हर दिन यू-टर्न मार रहा है. इसी बीच फैंस के लिए बड़ी खुशखबरी सामने आई है. दरअसल सुशांत के सुसाइड केस को सीबीआई (CBI Inquiry In Sushant Case) के हवाले करने की मांग काफी समय से चल रही थी. जिसके लिए अब फाइनली केंद्र (Central) भी राजी हो गई है. दरअसल सुशांत के मामले को अब सीबीआई के हवाले सौंप दिया गया है. बता दें कि मंगलवार को बिहार सरकार ने एक्टर के पिता की सहमति के बाद इस केस में सीबीआई जांच की सिफारिश केंद्र से की थी. जिसे अब मंजूरी दे दी गई है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार के वकील की ओर से बताया गया कि उन्होंने सुशांत केस की जांच सीबीआई को ट्रांसफर कर दी है.

ये भी पढ़ें:- सुशांत के जीजा के फोन चैट से खुली मुंबई पुलिस की पोल, सामने आई एक्टर के मौत से जुड़ी बड़ी सच्चाई

ऐसे में जाहिर सी बात है कि इस केस की पूरी जांच सीबीआई करेगी. दरअसल काफी लंबे वक्त से लोगों की यही मांग थी कि इस मामले में सीबीआई जांच हो. इसी बीच केंद्र सरकार के वकील SG तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट में अपनी दलील पेश करते हुए कहा कि मामले की जांच से सीबीआई करवाने के लिए बिहार सरकार की सिफारिश को मंजूर कर लिया गया है. लेकिन दूसरी तरफ से रिया का केस लड़ रहे वकील श्याम दीवान ने अपनी दलीलें रखते हुए कहा कि एसजी की ओर से जो कहा गया है, यहां वो मामला नहीं है, इसलिए अदालत रिया की याचिका पर ध्यान दे. इतना ही नहीं बल्कि श्याम दीवान (रिया के वकील) ने तो सारे मामलों पर रोक लगाने की भी मांग कर दी. जी हां रिया चक्रवर्ती (Riya Chakraborty) के वकील श्याम दीवान ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि एफआईआर ज्यूरिसडिक्शन के हिसाब से नहीं है. इसलिए अदालत पूरे केस पर रोक लगाए.

इसके आगे रिया के वकील ने अपनी दलीलों में ये भी कहा कि बिहार पुलिस (Bihar Police) अचानक से मुंबई पहुंचने के बाद बिना किसी से परमीशन लिए पूछताछ करने लगी. जबकि उनके क्षेत्राधिकार में ये नहीं आता है. लेकिन मुंबई पुलिस इस मामले में शुरू से ही पूरी कार्रवाई कर रही है. इसके साथ ही वकील श्याम दीवान ने ये भी कहा कि बिहार में दर्ज FIR को मुंबई के लिए पहले ट्रांसफर किया जाना चाहिए. अब तक इस मामले में मुंबई पुलिस 59 लोगों के बयान दर्ज कर चुकी है. दूसरी तरफ जस्टिस ऋषिकेश राय ने इस केस में कहा कि एक्टर सुशांत सिंह राजपूत बहुत ही टैलेंटेड और एक उभरते हुए सितारे थे ऐसे में अचानक से उनकी रहस्यमयी तरीके से मौत हो जाना वाकई हैरान करने वाली बाच है. आगे जस्टिस ऋषिकेश राय ने ये भी कहा कि ये विषय वाकई जांच का है. इसलिए इसकी छानबीन होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें:- SSR सुसाइड केस में आया नया ट्विस्ट, अब आदित्य ठाकरे ने ट्वीट के जरिए दिया ये बड़ा बयान