SSR Case: सुशांत के मुख्य गवाहों को जान का खतरा, कर रहे हैं सुरक्षा की मांग

66

सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच सीबीआई कर रही है। सभी से पूछताछ का सिलसिला जारी है, जिसमें लगातार कई बड़े राज बेपर्दा हो रहे हैं। अब इस बीच सुशांत सिंह प्रकरण में अहम गवाहों की भूमिका में नजर आने वाले लोग अब अपने जान की सुरक्षा की गुहार लगाते हुए नजर आ रहे हैं। इन लोगों का कहना है कि सुशांत के पक्ष में गवाही देने के चलते इन्हें लगातार धमकी दी जा रही है, लिहाजा अब ये लोग पुलिस-प्रशासन से सुरक्षा की मांग कर रहे हैं तो चलिए जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर कौन हैं, सुशांत के वो गवाह, जिनको मिल रही है लगातार जान से मारने की धमकी, जानने के लिए पढ़िए हमारी ये रिपोर्ट

ये भी पढ़े :दुबई के ड्रग डीलर से था सुशांत सिंह राजपूत का कनेक्शन! अब नारकोटिक्स ब्यूरो करेगा जांच

अंकित आचार्य..ये वो नाम है, जिन्हें लगातार सुशांत के पक्ष में गवाही देने के चलते जान से मारने की धमकी मिल रही है। अंकित आचार्य सुशांत के पूर्व मैनेजर हैं। अंकित ने एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान बातचीत करते हुए खुलासा किया था कि सुशांत दिमागी तौर पर बिल्कुल स्वस्थ्य थे। इतना ही नहीं, अंकित ने तो यहां तक कहा था कि सुशांत का मर्डर हुआ था वो भी उनके डॉगी के फज बेल्ट से। इसके साथ ही अंकित ने अपने इंस्टाग्राम अकांउट के जरिए एक स्टोरी साझा करते हुए कहा कि लगातार उन्हें पुलिस और मीडिया से दूरी बनाए रखने के लिए कहा जा रहा है। लिहाजा अंकित ने पुलिस प्रशासन से सुरक्षा की  मांग की है।

उधर, गणेश हीवरकर ने भी ट्वीट कर अपनी जान को खतरा बताया। उन्होंने ट्ववीट कर कहा कि ‘मेरे और अंकित के लिए सुरक्षा की आवश्यकता है।’ अपने ट्वीट को उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत, अंकिता लोखंडे और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित अन्य कई लोगों को टैग किया है।इसके बाद गणेश ने दूसरा ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा किया, जिन्होंने उनके ट्वीट पर अपना रिएक्शन दिया।

ये भी पढ़े :सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर मुंबई पुलिस का बड़ा खुलासा, कहा-बिहार पुलिस को नहीं जांच का हक