SSR केस: CBI को मिला बड़ा सबूत, गले के निशान की सच्चाई आई सामने, PM रिपोर्ट ने खोले राज

2437
SSR case inquiry cbi

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत की गुत्थी अब एक पहेली की तरह उलझती जा रही है. इस केस में जांच जितनी आगे बढ़ रही है उतने ही एंगल इसमें सीबीआई के सामने निकलकर बाहर आ रहे हैं. साथ ही हर रोज कई ऐसे सबूत हाथ लग रहे हैं जो एक्टर के सुसाइड में बड़ा झोल साबित हो रहे हैं. जिन्हें देखकर ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि जैसे इस मामले में शुरूआत से दिखाया जा रहा था वैसा कुछ है नहीं? इसके साथ ही सीबीआई जांच में सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट (Post Mortem Report) ने तो केस को और भी ज्यादा असमंजस में डाल दिया है. क्योंकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के सारे सबूत ये गवाही दे रहे हैं कि एक्टर ने सुसाइड नहीं किया है बल्कि मामला कुछ और ही है.

ये भी पढ़ें:- किसके कहने पर किया था सुशांत का पोस्टमार्टम? CBI को डॉक्टरों ने बताया गहरा राज

सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी की माने तो, एक्टर के पीएम रिपोर्ट में सीबीआई टीम को काफी बड़ा झोल देखने को मिला है. जी हां सुशांत के गले पर कपड़े के निशान और रिपोर्ट में जो दावा किया गया है उसमें भी सीबीआई को बड़ा अंतर दिखाई दिया है. हैरानी वाली बात तो ये है कि सबसे अहम जानकारी जो पोस्टमार्टम रिपोर्ट में होती है वो है शख्स की मौत का समय, लेकिन एक्टर के रिपोर्ट में इस बात का कोई जिक्र ही नहीं है. वैसे देखा जाए तो शाम होने के बाद किसी भी शख्स का पोस्टमार्टम नहीं होता है. लेकिन एक्टर का पोस्टमार्टम रात में ही क्यों कराया गया? इतना ही नहीं एक्टर के पोस्टमार्टम में जितनी जल्दबाजी मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने की वो भी शक के दायरे में आता है.

फिलहाल कोरोना काल में किसी भी शख्स का पोस्टपार्टम तब किया जाता है जब उसकी रिपोर्ट सामने आ जाती है. लेकिन इस केस में ऐसा कुछ नहीं हुआ बल्कि एक्टर का पोस्टमार्टम पहले ही करवा दिया गय. ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर डॉक्टर्स को इतनी भी क्या जल्दी थी कि उन्हें इस काम को रात में ही अंजाम देना पड़ा? हालांकि शनिवार को जब सीबीआई की एक टीम कूपर अस्पताल में डॉक्टरों से पूछताछ करने पहुंची तो पोस्टमार्टम के बारे में जवाब देते हुए डॉक्टरों ने स्पष्ट किया कि उन्होंने ये पोस्टमार्टम जल्दी में मुंबई पुलिस के कहने पर किया था. ऐसे में जब इस सवाल को लेकर सीबीआई बांद्रा पुलिस के पास पहुंची तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि ये अभी फाइनल रिपोर्ट नहीं है.

फिलहाल इस रिपोर्ट में बड़ी गड़बड़ी उस वक्त सीबीआई को दिखी जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट में एक्टर के मौत का कारण फांसी लगने और दम घुटने को बताया गया. लेकिन रिपोर्ट में गले पर जो निशान पाया गया है वो लिगेचर मार्क है जिसका जिक्र भी किया गया है. यानी कि एक्टर के शरीर पर गहरे निशान देखने को मिले हैं. जिसके बारे में ऑटोप्सी रिपोर्ट में भी बताया गया है. खबर है कि एक्टर के मौत की गुत्थी में अब एम्स की टीम मेडिकल निष्कर्षों के साथ उनके चोट के निशानों पर विश्लेषण करेगी. हालांकि इस केस की सच्चाई कब तक सामने आएगी अभी कुछ भी कह पाना मुश्किल है. क्योंकि दो महीने से ज्यादा बीत चुके हैं और सीबीआई के हाथ ये केस अब सौंपा गया है. ऐसे इस मामले का अंतिम नतीजा क्या होगा ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा.

ये भी पढ़ें:- सुशांत की ग्लोबल प्रेयर मीट का वीडियो शेयर कर इमोशनल हुई बहन श्वेता, फैंस से कही दिल छू लेने वाली बात