हॉकी डंडे से पिटने के बाद ऐसी हो गई थी सोनू सूद की हालत, चेहरा देख खुद से लगने लगा था डर

54
Sonu Sood

बॉलीवुड एक्टर कहें या फिर लोगों के लिए मसीहा बन चुके सोनू सूद (Sonu Sood) इन दिनों जमकर चर्चा बटोर रहे हैं. उनकी दरियादिली के किस्से हर दिन सुनने को मिलते हैं. न जाने कितने लोगों को उन्होंने बेघर होने से बचाया, तो न जाने कितने लोगों को उन्होंने उनके परिवार से मिलवाया. आज कल कोई उन्हें अपना भाई कहता है तो कोई उन्हें अपना बेटा, तो कई लोग उन्हें अपना भगवान और मसीहा बताते हैं. उनकी जितनी भी तारीफ की जाए वो कम ही पड़ेगी. आज के समय में सोनू लोगों की लगातार मदद कर रहे हैं. इस कोरोना काल में उनकी ओर से मदद का सिलसिला अभी भी जारी है.

ये भी पढ़ें:- आदिवासी लड़की की मदद के लिए आगे आए सोनू सूद, बोले-आंसू पोंछ ले बहन किताब और घर नया होगा

दरअसल लॉकडाउन के बाद प्रवासी मजदूरों के हालात को देखने के बाद सोनू सूद ने मदद का बीड़ा उठाया इसके बाद उन्होंने एक राज्य से दूसरे राज्य में फंसे छात्र-छात्राओं को उनके घर तक पहुंचाने के लिए विशेष बसों का इंतजाम किया. देश ही नहीं विदेश तक वो अपनी मदद पहुंचाने की कोशिश में लगे हुए हैं. इसी बीच जब उनका इंटरव्यू लिया गया तो उन्होंने अपनी जिंदगी से जुड़े कुछ दिलचस्प किस्सों का खुलासा किया.  Sonu Soodजो अक्सर कॉलेज और स्कूल के टाइम में युवा कर बैठते हैं. इस इंटरव्यू में बात करते हुए सोनू सूद ने बताया कि जिस वक्त वो नागपुर के वायसीसी कॉलेज से इलेक्टॉनिक्स में बीई की पढ़ाई कर रहे थे उस वक्त वो ऐसे साथियों के ग्रुप का हिस्सा बने जो अक्सर मार-धाड़ करने वाले थे.

उन्होंने आगे कहा कि हालांकि मैं लोगों से हमेशा यही कहता था कि किसी से झगड़ा मत करो. क्योंकि हम अपने घर और मां-बाप से दूर यहां पढ़ाई करने के लिए आए हैं, ताकि हमारी फैमिली हम पर गर्व कर सके. इसलिए इन फालतू की चीजों में मत पड़ो. लेकिन इतना समझाने के बाद भी वो कहीं न कहीं झगड़ा कर ही लेते थे. Sonu Sood सोनू सूद ने आगे बताया कि कई दफा तो लड़ाई में ऐसे सीन देखने को मिले जिसमें लोगों के पास से तलवार और देसी पिस्टल तक देखने को मिलते थे. यहां तक कि इसके चलते उन पर मुकदमा भी चला. इस तरह के सीन वाकई किसी फिल्म से कम नहीं थे.

इतना ही नहीं सोनू सूद (Sonu Sood) ने तो बातचीत में ये भी कहा कि कई बार कॉलेज में लड़को के मस्ती के लड़ाई-झगड़े बहस में इतने ज्यादा बदल जाते थे कि सभी एक होकर आपस में ही मार-धाड़ करने लगते थे. उन्होंने कहा कि ऐसा मेरे साथ भी हुआ था. एक बार जब मैं होस्टल में था उस वक्त कुछ लड़के अचानक से मेरे कमरे में घुस गए और मेरी खूब पिटाई की थी.  Sonu Soodसोनू सूद ने बताया कि उन लड़को ने मुझे हॉकी डंडे से पीटा था. जिसके बाद मेरा पूरा फेस खून से लथपथ हो गया था. उस दौरान तो मैं खून देखने के बाद काफी ज्यादा सक्ते में आ गया था, और मैं इसलिए डर रहा था कि इन्होंने मेरा पूरा चेहरा बिगाड़ दिया. इसके बाद तो अगले दिन मैनें अपना पेपर छोड़ा और कुछ लड़को का ग्रुप बनाकर उन सभी लड़को को पीटने के लिए निकला. इसके बाद जैसे ही मुझे वहां मौका मिला मैं उन लोगों पर झपट पड़ा. जिसके अगले दिन पुलिस हमें ढूंढने लगी थी. इसके चलते उस ओर हम तकरीबन पांच दिन तक नहीं गए थे.

ये भी पढ़ें:- हर रोज सोनू सूद से इतने लोग मदद के लिए करते हैं रिक्वेस्ट, एक्टर ने शेयर की आंकड़े की लिस्ट