Categories
मनोरंजन

अनलॉक 1 में इस बात से नाराज हुए सोनू सूद, प्रवासियों को लेकर किया ट्वीट

देश में कोरोना संकट के बीच मसीहा बनकर आए बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद का ‘घर भेजो अभियान’ अब तेजी पकड़ने लगा है. पिछले लगभग एक महीने से सोनू सूद लगातार मुंबई की सड़कों पर डटे रहकर प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचा रहे हैं. इसके लिए बस, ट्रेन और यहां तक की प्लेन तक से अपने खर्च पर सोनू लोगों को उनके घर भेज रहे हैं. अभिनेता के इस काम से सोशल मीडिया पर सोनू ‘रियल हीरो’ काफी ज्यादा ट्रेंड कर रहा है, लोग उनके बेहतर भविष्य की दुआएं दे रहे है. हालांकि कुछ लोगों को अभिनेता के इस काम से दिक्कतें हो रहीं है जिसको लेकर रविवार को सोनू ने विरोधियों पर निशाना साधा, वे काफी नाराज नजर आएं हैं. दरअसल इतना नेक काम कर रहे सोनू सूद को कुछ लोग ट्वीटर पर परेशानी क्रिएट कर रहे हैं. बेवजह की मुखालफत से सोनू अब परेशान हो गए हैं जिसको लेकर उन्होने ट्वीट कर अपने अंदाज में जवाब दिया है.

ये भी पढ़ें:-विवाद के बीच सोनू सूद ने की सीएम उद्धव ठाकरे से मुलाकात, फिर कही ये बात

सोनू सूद ने ट्वीट कर लिखा है, ‘लोगों से अनुरोध है कि वही मदद मांगे जिनको जरूरत है। ऐसा देखा गया है कि पहले लोग ट्वीट कर मदद मांगते और बाद में उसे डिलीट कर देते हैं, ये साबित करता है कि वो फेक हैं। यह हमारे ऑपरेशन को बाधित करता है और वास्तविक जरूरतमंदों को प्रभावित करेगा। तो कृपया उन लोगों के बारे में सोचें, जिन्हें आवश्यकता है।’

सोनू ने अपने ट्वीट से यह साफ कर दिया है कि कुछ असामाजिक तत्व जरूरत का फायदा उठा रहे हैं, यह कोई भी लोग हो हालांकि इस महामारी के दौर में हम सबको एकजुट होने की आवश्यकता है. इससे पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने सोनू सूद की आलोचना करते हुए कहा था कि इस बात की संभावना है कि उनके पीछे एक राजनीतिक निर्देशक हो। वह बहुत चालाकी से ‘महात्मा’ बनने की ओर हैं। लॉकडाउन में अचानक एक नया ‘महात्मा’ सूद आया है। जब राज्य सरकारें किसी प्रवासी मजदूर को कहीं जाने की अनुमति नहीं दे रही हैं तो वो कहां जा रहे हैं?

sonu

मालूम हो कि रविवार शाम सोनू सूद मातोश्री में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उनके बेटे आदित्य ठाकरे से मिलने पहुंचे थे। मुलाकात के बाद बाहर निकलते ही सोनू सूद ने कहा कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक हर पार्टी ने उनका समर्थन किया है और इसके लिए वो सभी को धन्यवाद देना चाहते हैं। सोनू ने कहा कि जब तक एक-एक प्रवासियों को उनके घर नहीं भेज देते हम और हमारी टीम लगातार इस मार्ग पर आगे बढ़ती रहगी.

ये भी पढ़ें:-संजय राउत ने सोनू सूद पर साधा निशाना, तो भड़के अशोक पंडित ने ऐसे दिया पूरी शिवसेना को करारा जवाब