शाहरुख के धर्म को लेकर गौरी ने कह दी थी ऐसी बात, पांच साल तक परिवार से छिपे रहे किंग खान

155

पूरी दुनिया में इन दिनों कोरोना महामारी का कहर बरप रहा है, जिसके चलते अधिकांश देशों में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है, वहीं भारत में भी पिछले 6 महीने से संपूर्ण लॉकडाउन लागू है लेकिन देश की अर्थव्यवस्था को चलाने के लिए राज्य सरकारें धीरे-धीरे अनलॉक के तहत लॉकडाउन में चरणबद्ध तरीके से ढील दे रही हैं। आमजनों की तरह बॉलीवुड सेलेब्स भी जरूरत के हिसाब से घरों से बाहर निकल रहे हैं, कोरोना को ध्यान में रखते हुए सरकार की गाइडलाइंस का पालन किया जा रहा है। लॉकडाउन के समय सोशल मीडिया ने लोगों को काफी इंटरटेन किया। वहीं बॉलीवुड के सेलेब्स भी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव नजर आए हैं। इस बीच बॉलीवुड के किंग खान कहे जाने वाले शाहरुख खान और उनकी पत्नी गौरी का एक किस्सा काफी दिनों से सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है।

ये भी पढ़ें:-मन्नत के अंदर का शानदार जलवा..जब गौरी खान ने शेयर किया..तो सोशल मीडिया पर मच गया धमाल

दरअसल, कुछ साल पहले गौरी ने एक इंटरव्यू में शाहरुख के धर्म को लेकर ऐसी बात कही थी जिसे सुनकर सभी हक्का-बक्का रह गए थे। गौरी का यह बयान सोशल मीडिया पर आग की तरह फैल गया था। चलिए आपको बताते हैं गौरी और शाखरुख के बीच की इनसाइड स्टोरी।

ये तो सभी को मालूम है कि अभिनेता शाखरुख खान एक मुस्लिम परिवार से ताल्लुक रखते हैं, जबकि उनकी पत्नी गौरी एक हिंदू परिवार से आती हैं। दोनों के प्यार में धर्म भी एक बड़ी दीवार थी। लेकिन प्यार के आगे धर्म को भी झुकना पड़ा।

शाहरुख और गौरी कॉलेज के दिनों में पहली बार दिल्ली में मिले थे। दोनों को प्यार हो गया और उन्होंने 6 साल तक डेट किया। इतना ही नहीं गौरी के परिवार के सामने शाहरुख 5 साल तक हिंदू बने रहे। आखिरकार सच सामने आने के बाद

कई मुश्किलों का सामना दोनों को करना पड़ा। लेकिन गौरी के घरवाले इस रिश्ते के लिए राजी हो गए। उन्होंने यह फैसला गौरी पर छोड़ दिया था।

शाहरुख और गौरी ने एक नहीं तीन बार शादी की थी। उनकी पहली शादी कोर्ट मैरिज थी। दूसरा मुस्लिम रीति-रिवाज से निकाह हुआ था और तीसरी शादी पंजाबी स्टाइल में हुई थी। दोनों ने 1991 में शादी कर ली इसके एक साल बाद शाहरुख का बॉलीवुड डेब्यू हुआ।

शाखरुख से शादी करने के बाद गौरी पर कई तरह के सवाल उठने लगे थे, ऐसी अफवाह उड़ाई जाने लगी थी, क्या शाहरुख से शादी के बाद गौरी अपना धर्म बदल लेंगी। हालांकि गौरी ने एक इंटरव्यू में बताया था कि वे इस सवाल को सुन-सुनकर बहुत इरिटेट हो गई थी।

उन्होंने कहा था- हां हमारे धर्म अलग है, लेकिन इससे हमारे रिलेशन पर कोई फर्क नहीं पड़ता है। गौरी ने कहा, मैं शहरुख के धर्म की रिस्पेक्ट करती हूं लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि मैं अपना धर्म बदलकर मुस्लिम बन जाऊं। मैं इसमें विश्वास नहीं करती।

गौरी ने ये भी बताया था कि चूंकि शाहरुख के पेरेंट्स अब इस दुनिया में नहीं तो वे ही पूरे घर की जिम्मेदारी संभालती है। और हर त्योहार को पूरी शिद्दत के साथ मनाती है। उनका मानना है कि प्यार किसी धर्म का मोहताज नहीं है, प्यार सिद्दत से किया जाना चाहिए, उन्हें लगता है कि हम दोनों के बीच में अच्छी अंडरस्टैंडिंग है इसलिए आज तक हमारा रिश्ता पाक साफ रहा है।

बहरहाल शाहरुख और गौरी के रिश्ते को समाज किस नजर से देखता है, तो उस बात पर गौरी ने करण जौहर के शो में जवाब देते हुए कहा था- कि हां हमारे धर्म अलग है, लेकिन इससे हमारे रिलेशन पर कोई फर्क नहीं पड़ता है।

ये भी पढ़ें:-गौरी के लिए करियर दांव पर लगाने को तैयार थे शाहरुख खान, खुलेआम किया था बड़ा ऐलान