mahesh mukesh

मुम्बई। बॉलीवुड के प्रसिद्ध फिल्म प्रोड्यूसर मुकेश भट्ट (Mukesh bhatt ) का 5 जून को जन्मदिन है। अपनी फिल्मों से समाज को बेहतरीन संदेश देने वाले कई विवादों का हिस्सा भी रह चुके है। मुकेश के बेबाक और सही बयानों को हमेशा निशाना बनना पड़ा था। मुकेश की पहली फिल्म जुर्म थी जो 1990 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म में विनोद खन्ना ने अभिनय किया था। इस फिल्म को दर्शकों का उतना समर्थन नहीं मिला जितना मुकेश चाहते थे। बॉक्स ऑफिस में ज्यादा कमाल नहीं कर पाई। इसके बाद उन्होंने गुलशन कुमार के साथ मिलकर फिल्म ‘आशिकी’ बनाई जो सुपर हिट साबित हुई।

महेश भट्ट के मुकाबले मुकेश साधारण जीवन जीते हैं। बाॅलीवुड की दुनिया ही ऐसी है जिसमें विवाद होते ही रहते हैं। कभी-कभी मुकेश अपने बयानों की वजह से विवादों में पड़ जाते रहे हैं। साल 2018 में उन्होंने एक अजीबोगरीब बयान दिया था। इसी साल जब सुप्रीम कोर्ट ने सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान बजाने की अनिवार्यता खत्म कर दी तो फिल्ममेकर मुकेश भट्टने कहा था कि राष्ट्रगान की पवित्रता बनाए रखना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं। अगर आप सनी लियोनी की फिल्म देखने जा रहे हैं तो कैसे हॉल में राष्ट्रगान बजाया जा सकता है। उन्होंने कला और उसके सौन्दर्य की प्रस्तुति के साथ राष्ट्रगान को जोड़ दिया था।

महेश भट्ट ने किया था सनी को लॉन्च
मुकेश ने कहा कि एंटरटेनमेंट की जगह पर नेशनल एंथम की गरिमा के साथ समझौता हो गया था। मैं सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करता हूं क्योंकि इस फैसले नेशनल एंथम को बहुत सम्मान मिलेगा। राष्ट्रगान का सम्मान होना ही चाहिए। ज्ञात हो कि मुकेश भट्ट के बड़े भाई महेश भट्ट (Mahesh bhatt)ने ही साल 2012 में सनी लियोनी को फिल्म ‘जिस्म 2’ बनाई थी। जिस्म 2 से सनी लियोनी को बॉलीवुड में लॉन्च किया था। मुकेश भट्ट ने सनी लियोनी के खिलाफ बयान दिया था।

ये भी पढ़ेंः-Sunny Leone का वीडियो हुआ वायरल, उछलती नजर आई बॉलीवुड की बेबी डॉल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here