Poonam Pandit,

तीन कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन में जितने भी जाने पहचाने चेहरे हैं उनमें एक नाम पूनम प‍ंडित (Poonam Pandit) का भी है। पूनम पंडित जो कि उत्‍तर प्रदेश के बुलंदशहर की रहने वाली हैं, वो बीते 10 महीनों से तीन कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन में पूरी तरह से एक्टिव हैं। वो उस समय सबसे ज्‍यादा चर्चा में तब आई जब यूपी के मुज्‍जफरनगर में आयोजित किसान महापंचायत में उन्‍हें मंच पर चढ़ने नहीं दिया गया। इस दौरान उनको बहुत से इंटरव्यू में देखा गया, उन्होंने कई आरोप लगाए थे.

कौन हैं पूनम पंडित

लेकिन क्‍या आप ये बात जानते हैं कि पूनम पंडित (Poonam Pandit) एक समय में हरियाणवी डांसर सपना चौधरी की बाउंसर भी हुआ करती थी। इस बारे में पूनम पंडित ने खुद ये बता बताई कि कैसे वो हरियाणा के करनाल शहर में पहुंची थी। उस समय पूनम पंडित भले ही एक छोटा नाम था, मगर आज वो फेमस हो गयी हैं। पूनम पंडित ने कहा कि मैंने कानूनों को गहराई से समझा है और तभी मैं आंदोलन से जुड़ी हूं।

इंटरनेशनल शूटर भी हैं पूनम

पूनम पंडित ने बताया कि यह कहने में मुझे कोई गुरेज नहीं है कि मैं कभी सपना चौधरी की बाउंसर होती थी। बाउंसर खेल से जुड़े होते ही हैं और मैं भी एक इंटरनेशनल शूटर भी हूं। नेपाल में मुझे गोल्‍ड मेडल भी मिला है। तब घर चलाने के लिए मैं नौकरी किया करती थी। लेकिन बाद में किसानपूनम पंडित ने नए कृषि कानून को बताया डेथ वारंट, 26 जनवरी को दिल्ली पहुंचने का किया आह्वान - poonam pandit told the new agricultural law deathwarrant - UP Punjab Kesari आंदोलन से जुड़ गई। सपना चौधरी को लेकर उन्‍होंने बोला कि मुझे इस बात का भी दुख है कि सपना चौधरी एक कलाकार हैं मगर फिर भी वे किसानों के समर्थन में नहीं शामिल हुई। पूनम पंडित ने ये कहा कि कुछ लोग जहर फैलाकर आंदोलन को तोड़ने की कोशिश भी कर रहे हैं। मुझे बदनाम किया जा रहा है, यही कारण है कि मुज्‍जफरनगर में मेरे साथ अभद्रता की गई।

स्टेज पर नहीं दिया गया चढ़ने

किसान महापंचायत के वालिएंटरों पर सवाल खड़े करते हुए पूनम पंडित ने कहा कि एक लड़के ने मुझे कोली भरके यानि कमर में हाथ डालकर नीचे खींच लिया और मंच पर चढ़ने ही नहीं दिया। उसने मुझसे कहा कि मैं किसी भी सूरत में तुम्‍हें मंच पर नहीं चढ़ने दूंगा। मेरे साथ बहुत धक्‍का मुक्‍की कीकिसान आंदोलन में शामिल इंटरनेशनल शूटर पूनम पंडित हुई भावुक गई। मैं पसीने से भर गयी और मेरी तबीयत भी खराब हो गई। मैं कुछ समझ ही नहीं पा रही थी की मेरे साथ ये क्‍या हो रहा है।

पूनम ने बोला कि खुद राकेश टिकैत ने मुझे किसान महापंचायत में बुलाया था। इसके बाद में उन्‍होंने मुझे मंच पर भी बैठा दिया। पूनम पंडित ने कहा कि आखिरी दम तक मैं किसानों के साथ रहूंगी। पूनम पंडित ने अपनी निजी जिंदगी पर बात करते हुए कहा कि मैंने खुद मेरी छोटी बहन की शादीPoonam Pandit (International Shooter) Biography, Age, Career अभी की है और मैं तो अभी 25 साल की हूं। मेरे पापा नहीं है और मेरी मां ने ही शुरु से ही हमारी पर‍वरिश की है। पूनम पंडित तीन दिनों तक करनाल में रुकीं और मंच से कई बार आंदोलनकारियों को संबोधित की।

अलग लहजे में देती हैं भाषण

पूनम पंडित हरियाणवी और यूपी के लहजे में भाषण देती हैं, जिसके कारण उनको लोग पसंद भी खूब करते हैं। लेकिन बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो उनको पसंद नहीं करते।ऐसी ही एक घटना पहले भी सामने आ चुकी है। जब उन्‍हें टिकरी बॉर्डर पर आने से रोक दिया गया था। पूनम पंडित भावुक बहुतसपना चौधरी की बाउंसर थी पूनम पंडित -जाने अब कैसे बनी किसान आंदोलन के चर्चित नामों में से एक हैं उनकी आंखों से बहुत जल्द आंसू बहने लगते हैं। करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज और एसडीएम आयुष सिन्‍हां पर कार्रवाई की मांग को लेकर शुरू किए गए धरने में पूनम पंडित आखिर में पहुंची लेकिन दो दिनों तक उन्‍होंने आंदोलन में जान फूंक दी।

पूनम पंडित ने बोला कि मेरे बारे में लोग बहुत तरह की बातें करते हैं। लेकिन कुछ लोगों के कारण मैं हार मानकर बैठने वालों में नहीं हूं। ये भी हो सकता है कि 10 प्रतिशत लोग मुझे पसंद न करते हों,पूनम पंडित का कौन होगा? - T4UNEWS | Think4unityNews मगर मैं 90 प्रतिशत लोगों के प्‍यार को मैं भुला नहीं सकती हूं। पूनम पंडित ने बोला कि मैं पहले हरियाणा से इतनी परचित नहीं थी। मगर हरियाणा मुझे अपना घर जैसा लगने लगा है।

शादी की बात पर कुछ यूं जवाब देती हैं पूनम पंडित

जब कभी भी पूनम पंडित से ये पूछा गया कि कई युवा आपसे शादी करने के लिए लाइन में लगी है और वाे आपसे शादी करना चाहते हैं तो पूनम पंडित मुस्‍कुरा देती हैं। पूनम पंडित ने बोला कि शादी भी कर लेंगे। इसमें कोई दिक्‍कत भी नहीं है। कोई सीधे सीधे पर आकर कहें कि शाादी करनी है और क्‍यों करनी है। एक इंटरव्‍यू के दौरान जब पूनम पंडित से लड़के में होने वाले गुणों के बारे में पूछा गया94% जनता को नहीं मिलता एमएसपी का लाभ: पूनम पंडित तो सके जवाब में पूनम ने कहा कि बाकी कुछ भी चलेगा मगर मैं हनक सहन नहीं कर पाऊंगी। ये करो, वो करो, इस तरह की चीजें मेरे साथ नहीं चल पाएंगी। मुझे खुले व्‍यक्तित्‍व वाला पति ही चाहिए।Meet Poonam Pandit who participated extensively in the farmer movement जो किसी भी तरह की रोक टोक ना लगाए। मैं अच्‍छी तरह से घर संभाल सकती हूं। पूनम पंडित ने बताया कि मैं तभी शादी करूंगी तभी घर जाऊंगी जब कृषि कानून वापस हो जाएंगे।

इसे भी पढ़ें-Deepika Padukone ने पति Ranveer की शेयर की ऐसी अनोखी तस्वीर कि बोल पड़े एक्टर- क्या बेबी…