Saturday, January 16, 2021

कंगना के ड्रग लिंक मामले में महाराष्ट्र कांग्रेस के महासचिव ने एनसीबी से किया सवाल

दिल्ली। महाराष्ट्र की कांग्रेस सरकार और कंगना रनौत में खींचतान जारी है। कांग्रेस ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो से कंगना मामले में सवाल किया है कि वे उसके ड्रग लिंक के लिए पूछताछ के लिए कंगना को कब बुलाएंगे? महाराष्ट्र कांग्रेस के महासचिव और प्रवक्ता सचिन सावंत ने ड्रग्स के सेवन के बारे में उनके बयान के साथ एक पुराने वीडियो को ट्वीट करते हुए पूछा कि इस लिंक के लिए उनकी जांच क्यों नहीं की जा रही है। कंगना को घेरने के लिए यह सवाल पूछा गया है। ज्ञात हो कि बयान कंगना द्वारा राज्य सरकार और शिवसेना पर हमले के एक दिन बाद आया है।
सावंत ने रनौत के वीडियो को ट्वीट किया है। वीडियो साथ उन्होंने कहा गया है कि उन्होंने बॉलीवुड में संघर्ष करते हुए जीवन में अपने बुरे पैच के दौरान ड्रग्स का सेवन किया है। वह वापस आ गई है! आप इस वीडियो के लिए कब कंगना की टीम को कॉल करेंगे? इसके अलावा मोदी सरकार ने उन्हें वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गयी है। क्योंकि वह बॉलीवुड में ड्रग रैकेट जानकारी की देना चाहती थी। वह अभी भी जानकारी छुपा रही है जो एक अपराध है।

यह भी पढ़ेंः-मां के जन्मदिन पर इस अभिनेत्री के ताजा हुए बचपन के संस्मरण

सावंत ने कंगना से सवाल करते हुए कहा है कि जबकि अन्य अभिनेताओं और फिल्म उद्योग से जुड़े लोगों को तलब किया गया था और उनके संदेशों को चेक किया गया था और उनके घरों में मिले ड्रग्स के आधार पर पूछताछ की गई थी। इसी तरह कंगना के मामले में पूछताछ होनी चाहिए। करण जौहर और अन्य फिल्मी कलाकारों को एनसीबी ने ड्रग लिंक के पुराने मामलों और वीडियो के लिए पूछताछ की गई थी। कंगना को इस मामले में रियायत क्यों दी जा रही है। जब कंगना ने स्वयं ड्रग का सेवन करने की बात स्वीकार की है। साथ ही उनके पूर्व मित्र अध्ययन सुमन ने उन पर ड्रग के सेवन के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया था।

गौरतलब है कि रनौत ने मंगलवार को सिद्धिविनायक और मुंबादेवी मंदिरों में पूजा की और ट्वीट किया। जिस दुश्मनी की वजह से मुझे अपने प्यारे शहर मुंबई के लिए खड़ा होना पड़ा। उसने मुझे चकमा दे दिया। आज मैं मुंबा देवी और सिद्धिविनायक जी के पास गई और उनका आशीर्वाद प्राप्त किया। मुझे सुरक्षित महसूस हुआ और प्यार मिला। जय हिंद जय महाराष्ट्र। ज्ञात हो कि महाराष्ट्र सरकार कंगना के प्रति हमलावर रही है। उनके आफिस को भी तोड़ा गया था।

यह भी पढ़ेंः-कंगना रनौत के दादा ब्रम्हाचंद रनौत का निधन, लम्बे समय से थे बीमार

Stay Connected

1,097,080FansLike
10,000FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles