chhapaak

बॉक्स ऑफिस पर फिल्म छपाक रिलीज होने के लिए तैयार है, लेकिन इस पहले ही फिल्म को रोकने के लिए कई तरह की अटकलें लगाई जा रही है. दीपिका की ये फिल्म कई मुश्किलों में फंसती हुई नजर आ रही है. हालांकि सोशल मीडिया पर पहले से ही इस फिल्म को लेकर बायकॉट किया जा रहा है तो वहीं अब एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल की वकील अपर्णा भट्ट भी फिल्म मेकर्स के खिलाफ नजर आ रही हैं.

अपर्णा भट्ट ने दाखिल की याचिका
दरअसल लक्ष्मी की वकील अपर्णा भट्ट ने फिल्म मेकर्स पर अपने रोल को लेकर कई तरह के आरोप लगाए हैं. उन्होंने इसके खिलाफ दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में याचिका भी दाखिल की है. ये याचिका दीपिका की फिल्म छपाक को रोकने के लिए करवाई गई है. आपको बता दें कि इस याचिका के जरिए लक्ष्मी की वकील ने फिल्म मेकर्स पर ये आरोप लगाय है कि, उन्होंने एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी का केस सालों तक लड़ा, इसके बावजूद उनके किरदार को वो तवज्जो नहीं दिया गया, जो दिया जाना चाहिए. उन्हें इस फिल्म कोई क्रेडिटट नहीं मिला, जबकि उन्होंने इस फिल्म की स्क्रिप्ट में भी मेकर्स की काफी मदद की थी.

लक्ष्मी की वकील अपर्णा भट्ट का ये भी कहना है कि मुझे इस बात का भरोसा दिलाया गया था, कि उनके किरदार के साथ किसी भी तरह की नाइंसाफी नहीं होगी, उन्होंने लक्ष्मी के लिए जो किया है, उसका पूरा श्रेय फिल्म के थ्रू दर्शकों को दिखाया जाएगा. लेकिन ऐसा कुछ भी नीं हुआ, और उन्हें फिल्म में वो तवज्जो नहीं दी गई, जो उन्होंने लक्ष्मी के लिए किया था.

फेसबुक के जरिए शेयर की थीं ये बात
बता दें कि फेसबुक के जरिए वकील अपर्णा भट्ट ने ये लिखा था कि, भला कैसे वो इस फिल्म को लेकर नाराज हो सकती हैं, उन्हें मेकर्स ने जिस बात का भरोसा दिलाया था, वो क्रेडिट नहीं दिया. इसके साथ ही ये भी लिखा था कि वो अब इस मसले में कानून का सहारा लेंगी. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि वो दीपिका और फिल्म से जुड़े लोगों की बराबरी तो नहीं कर सकतीं, लेकिन वो इस मामले में चुप भी नहीं बैठ सकतीं.

ये भी पढ़ें:- धार्मिक विवाद में फंसी दीपिका की ‘छपाक’, मेकर्स ने रातों-रात किया फिल्म में ये बदलाव