kareena

मनोरंजन जगत की जानी मानी एक्ट्रेस करीना कपूर वैसे तो बहुत अच्छी हिरोइन है, लेकिन वो एक अच्छी मां नहीं थीं. ये बात खुद करीना कपूर ने अपने लिए कही है. पहले बच्चे तैमूर का डायपर बदलना तक उनको नहीं आता था. ऐसी ही बहुत सी बातों के बारे में करीना ने अपनी बुक ‘प्रेगनेंसी बाइबल’ में खुलासा किया है. अपनी इस किताब ‘प्रेगनेंसी बाइबल’ में करीना ने अपनी दोनो बार की प्रेग्नेंसी से जुड़े अनुभव के बारे में बाते शेयर की हैं.

तैमूर को गोद में लेने का अनुभव

अपनी इस बुक में करीना ने कहा कि ‘मुझे अभी भी याद है जब मैंने पहली बार बड़े बेटे तैमूर को अपने सीने से लगाया था. जब एनेस्थीसिया का असर थोड़ा कम हुआ तो तैमूर को सीने से लगाते समय मुझे ये लगा कि ये सब हकीकत है. मैंने अपने बच्चे को गोद में उठाया, उसमें न्यू-बोर्न बेबी वाली खुशबू सी आ रही थी. मैंने तैमूर की परवरिश के लिए अपने जीवन में नियम बनाए और यही काम दूसरे बेटे जेह के लिए भी किया.

नहीं थीं परफेक्ट मॉम

मातृत्व के अहसास करते हुए करीना ने अपनी गलतियों को जगजाहिर करते हुए कहा कि पहली बार में, ‘मैं एक परफेक्ट मॉम नहीं थी. कई बार खुशी तो सबकुछ मैस-अप दिखता. मुझे तो तैमूर का डायपर तक चेंज करना नहीं आता था. कई बार उसका डायपर लीक तक हो जाता था क्योंकि उसकी मां को उसे डायपर नहीं पहनाना आता था. सलाह के तौर पर करीना ने कहा कि मां बनने के बाद औरतें ज्यादा काम न करें, वो उतना ही करें जो आराम से वो कर पाएं. क्योंकि अगर मां कंफर्ट फील करती है, तो बच्चे को भी इसका एहसास होता है’.

मां को किया शुक्रिया

करीना ने अपनी मां बबिता और पूरे स्टाफ को धन्यवाद करते हुए लिखा कि ये ही वो लोग है, जिन्होंने मेरा कदम कदम पर साथ दिया. जिसके कारण ही मैं एक परफेक्ट मॉम बन सकी हूं. अपनी बुक ‘प्रेगनेंसी बाइबल’ के बारे में करीना ने एक वीडियो शेयर कर बताया था. कभी कभी मुझे लगता था कि मैं काम करूं और कभी तो ये बहुत मुश्किल लगता था. लेकिन जब से ये बुक रिलीज हुई है, तभी से करीना विवादों में घिर गयी हैं. अल्पा ओमेगा महासंघ ने ‘बाइबल’ नाम पर आपत्ति जताई और मुंबई में शिकायत भी दर्ज कराई है.

यह भी पढ़ें-Gold price today : 7900 रुपये सस्ता मिल रहा है सोना ! यहां जानें आज के नए रेट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here