मुम्बई। अभिनेता जुगल हंसराज के जन्मदिन पर आज उनके प्रशंसक उन्हें शुभकामनाएं दे रहे हैं। आज यानि 26 जुलाई को जुगल हंसराज 49 वर्ष के हो गये। जुगल हंसराज को फिल्म ‘मोहब्बतें’ में निभाए रोल समीर शर्मा के लिए याद करते हैं। इस भूमिका जुगल काफी मशहूर हो गए थे। हालांकि, बॉलीवुड से उनका नाता काफी पुराना है। जुगल हंसराज पहली बार बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट फिल्म ‘मासूम’ (1983) में नजर आए थे। वे 1994 में आई फिल्म ‘आ गले लग जा’ में ली़ड एक्टर के तौर पर नजर आए, लेकिन उन्हें असली पहचान सन 2000 में आई फिल्म ‘मोहब्बतें’ से मिली। इस फिल्म के बाद, उनके सितारे कभी बुलंद नहीं हुए और वे धीरे-धीरे एक्टिंग से दूर होते चले गए, जुगल अब तक 18 फिल्मों में काम कर चुके हैं। मुम्बई में जन्मे जुगल हंसराज ने 1994 में फिल्म ‘आ गले लग जा’ में पहली बार हीरो की भूमिका की। उनके साथ फिल्म में उर्मिला मातोंडकर थीं। इससे पहले ‘मासूम’ में दोनों ने बाल कलाकार के रूप में साथ काम किया था।

जुगल हंसराज की दूसरी फिल्म ‘पापा कहते हैं’ आई थी। फिल्म में उनके अपोजिट मयूरी कांगो को लिया गया। ‘पापा कहते हैं’ के गाने को लोगों ने खूब पसंद किया था। इसके कई साल बाद यशराज बैनर की फिल्म ‘मोहब्बतें’ में जुगल नजर आए। फिल्म में उन्होंने अपनी मासूमियत से दिल जीत लिया। वह लड़कियों के फेवरेट बन गए। हालांकि इसके बाद उनकी कुछ फिल्में आईं, लेकिन उनका रोल ज्यादा बड़ा नहीं होता था। शुरुआती सफलता के बावजूद जुगल सफल नहीं हो सके। इस बारे में उन्होंने साल 2020 में एक इंटरव्यू में कहा था कि मैं पूरी तरह से आउटसाइडर था। इंडस्ट्री में कोई कनेक्शन नहीं था। ऐसे में आप खुद को स्थिर करने के लिए लगातार कोशिशें करते हैं। आपको सलाह देने वाला कोई नहीं होता है। मुझे लगता है कि फिल्मी परिवार से होने पर करियर के फैसले बेहतर तरीके से लेने के लिए तैयार होते हैं।

जुगल हंसराज बताते हैं कि उन्होंने करीब 35-40 प्रोजेक्ट साइन किए थे लेकिन वह कभी शुरू ही नहीं हो सके। उनके करियर में ऐसा कई बार हुआ। इस बात का उन्हें दुख है कि अगर वे शुरू हो जाते तो शायद उनके करियर की दिशा आज कुछ और होती। जुगल भारत छोड़कर अब अमेरिका के न्यूयॉर्क में सेटल हो गई हैं। वह अपनी पत्नी और बेटे के साथ रहते हैं। सोशल मीडिया पर वह परिवार के साथ की फोटोज पोस्ट करते रहते हैं।

इसे भी पढ़ें:ट्रैक्टर चलाकर संसद पहुंचे राहुल गांधी, कार्यवाही शुरू होते ही दोनों सदनों में जोरदार हंगामा