फिल्म इंडस्ट्री के माफिया नहीं चाहते थे सुशांत आगे बढ़ें, जिम पार्टनर ने कहा- ‘शाहरुख-सलमान’ ने..

83

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आकस्मिक मौत की जांच अब सीबीआई और ईडी के अधिकारी मिलकर कर रहे हैं। इस दौरान सुशांत केस को लेकर आए दिन कई खुलासे हो रहे हैं। इस बीच एक और बड़ा खुलासा सुशांत के जिम पार्टनर सुनील शुक्ला ने किया है। सुनील शुक्ला ने बताया कि सुशांत सिंह कभी आत्महत्या कर ही नहीं सकते, चूंकि उन्हें कभी डिप्रेशन में देखा ही नहीं था। उन्होंने सुशांत सिंह के साथ के बिताए हुए उन खास पलों को याद किया है। सुनील शुक्ला के मुताबिक वह एक्टर शाहरुख खान के द्वारा की गई बेज्जती और सलमान खान द्वारा साजिश का शिकार हुए हैं। सुशांत सिंह का इन लोगों ने फिल्म इंडस्ट्री में खूब मजाक उड़ाया है। शुक्ला ने इसे लेकर बांद्रा पुलिस को शिकायत भी दी है. इसके साथ ही उन्होंने शाहरुख, सलमान के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में भी अपील दायर की है। सुनील शुक्ला ने सलमान खान पर आरोप लगाते हुए कहा कि करण जौहर के साथ मिलकर सलमान ने सुशांत की फिल्मों को बंद कराने की कोशिश की गई।

ये भी पढ़ें:-जब सुशांत ने की थी Ms धोनी की बायोपिक फिल्म, चारों बहनों ने कही थी अपने गुलशन को ये बात

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म ‘ड्राइव’ को जान बूझकर बंद करने की कोशिश की गई थी. फिल्म इंडस्ट्री के माफिया नहीं चाहते थे कि सुशांत की फिल्म बड़े पर्दे पर रिलीज हो। इसलिए उन्होंने सुशांत के करियर को ही बर्बाद करने की साजिश रची।

सुनील शुक्ला ने बताया कि आईफा अवॉर्ड्स में सुशांत, शाहरुख खान और शाहिद कपूर के साथ स्टेज शेयर करने वाले थे. शो से पहले शाहरुख ने उनसे बात की थी और उनसे कहा कि वो स्टेज पर फिल्म ‘काई पो चे’ के बार में बात करने को कहा था. सुनील ने कहा, ”सुशांत ने मुझे बताया कि शाहरुख ने उन्हें एक सिग्नेचर स्टेप प्रैक्टिस करने के लिए कहा था. वो इस न्योते से भी काफी खुश थे।

इतना ही शाहरुख खान ने कहा था कि वो उससे उनके करियर और स्ट्रगल की बात करें लेकिन स्टेज पर जाकर उन्होंने स्टेज पर उनकी बेज्जती करनी शुरू कर दी थी.” सुनील ने कहा कि सुशांत, शाहरुख खान के इस बर्ताव से खासा आहत थे।

बहरहाल इस पूरे मामले पर सुनील ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है, उन्होंने बताया कि अपने सभी आरोपों को सिद्ध करने के लिए उन्होंने कोर्ट के समक्ष कई सबूत भी पेश किए हैं। इसके साथ ही इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपने का न्यायालय से आग्रह किया है। सुनील का मानना है कि मुंबई पुलिस की इन्वेस्टिगेशन फेयर नहीं है इसलिए सीबीआई ही इस केस पर से पर्दा उठा सकती है।

ये भी पढ़ें:-ED जांच में बड़ा खुलासा! अंकिता लोखंडे के लिए खरीदा था 4.5 करोड़ का घर, सुशांत भरते थे EMI