सुशांत की आत्महत्या नहीं हत्या? सामने आया अभिनेता के साथ 24 घंटे रहने वाले अंकित का बयान 

452

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच जारी है। अब इस पूरे प्रकरण की जांच सीबीआई को सौंप दी गई है। जिसको लेकर शिवसेना अपनी नारजागी जता रही है और केंद्र सरकार के इस निर्देश को केंद्र-राज्य संबंध के नियमों के खिलाफ बता रही है। उधर, सुशांत प्रकरण को लेकर अनवरत बयानों का सिलसिला जारी है। लगातार तरह-तरह के बयान सामने आ रहे हैं। अब इसी बीच अभिनेता के साथ 24 घंटे रहने वाले उनके पूर्व अस्टेंटट अंकित का बयान सामने आया है, जिन्होंने सुशांत के लिए 2017 से लेकर 2019 तक काम किया था।

ये भी पढ़े :संजय राउत के बयान से खफा सुशांत के चचेरे भाई ने भेजा नोटिस, माफी मांगने के लिए दिया 48 घंटे का वक्त

अब ऐसे में इतने लंबे अर्से तक साथ रहने वाले किसी भी सख्स के लिए उसका मिजाज और आदत कैसी रही होगी, उसके बारे में बता पाना बेहद आसान और विश्वनिय रहेगा। इस दौरान अंकित ने सुशांत प्रकरण को लेकर कहा कि वे बहुत खुशमिजाज और लोगों को सकारात्मक संदेश और जिंदगी में कभी हार न मानने का संदेश वाले इंसान थे।  आखिर वो ऐसा कदम नहीं उठा सकते हैं। वे सकारात्मकता से लबरेज इंसान रहे हैं। अंकित बताते हैं कि वे सुशांत के साथ 24 घंटे साथ रहते थे। उनकी हर एक चीज का ख्याल रखते थे। उनके खाने से लेकर उनकी दवाई और उनकी शूटिंग तक का ख्याल रखते थे। अंकित कहते हैं कि वे लोगों को प्रेरणा देने वाले इंसान थे, आखिर वे ऐसा कदम कैसे उठा सकते हैं।

कौन हो सकता है इसके पीछे 
वहीं जब उनसे यह सवाल किया गया है कि आखिर इस पूरे घटनाक्रम के पीछे कौन हो सकता है तो इस पर उन्होंने कहा देखिए अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी हो सकती है। सीबीआई जांच कर रही है। लेकिन जिस तरह से सुशांत के आखों के आस पास चोटों के निशान दिखे हैं और गले में हरे कपड़े के निशान नहीं बल्कि  सुशांत के डॉगी फज के पट्टे के निशान थे।

रिया के बारे में भी कही ये बात 
इसके साथ ही अंकित ने सुशांत की गर्लफ्रेंड रही रिया के बारे में कहा कि जब रिया चक्रवर्ती उनकी जिंदगी में आई तब वे छुट्टियों पर थे। अंकित ने बताया सुशांत बहुत खुश रहने वाले इंसान थे। हमारे साथ क्रिकेट खेला करते थे। वे इस तरह हार मानने वालों में से नहीं थे। अंकित बताते हैं कि जब वे सुशांत के पास अपनी आखिरी सैलरी लेने पहुंचेे थे तो वे काफी उदास थे।

कमरे का दरवाजा क्यों बंद था? 
इसके साथ ही अंकित ने कहा कि असल में यह बात काफी हैरान करने वाली है कि आखिर सुशांत का दरवाजा बंद क्यों था? क्योंकि वो तो अपने कमरे का दरवाजा कभी बंद करते ही नहीं थे, लेकिन आत्महत्या के दिन उनका दरवाजा बंद कैसे हुआ?  ये भी पढ़े :सुशांत के केस में पिता का बड़ा दावा, कहा- बेटे का हुआ मर्डर, CBI इस मामले..