कोर्ट के चक्करों में फंसी कंगना रनौत, हिन्दू मुस्लिम विवाद बढ़ाने का लगा आरोप

32
kangana ranaut Maharashtra

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) अक्सर अपने चर्चाओं में रहती हैं और उनकी चर्चाओं का कारण उनका बलबोला अंदाज है। दरअसल, वह अक्सर बॉलीवुड इंडस्ट्री को लेकर बयानबाजी करती रहती हैं, जिसका रिजल्ट ये हुआ कि अब उनके खिलाफ मुंबई के एक कोर्ट में मुकदमा दर्ज कराया गया है। कंगना के खिलाफ बांद्रा कोर्ट में मुन्ना वराली और कास्टिंग डायरेक्टर साहिल अशरफ सय्यद ने बॉलीवुड को बदनाम करने के आरोप में याचिका दायर की है। याचिका में कंगना पर आरोप लगाया गया है कि वह बॉलीवुड को बदनाम कर रही हैं, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से लेकर टीवी तक हर जगह वह ये बताने की कोशिश कर रही हैं कि बॉलीवुड नेपोटिज्म (Nepotism) और फेवरिज्म (Favourism) का अड्डा है।

यह भी पढ़े- संजय कपूर को पसंद थी लंबी लड़कियां, दो हीरोइनों को डेट करने बाद इस सफल व्यापारी से कर ली शादी

कंगना रनौत पर हिन्दू मुस्लिम विवाद का भी आरोप लगा है। याचिका में इसको लेकर कहा गया कि उन्होंने बॉलीवुड के हिन्दू और मुस्लिम कलाकारों के बीच खाई पैदा की है। वह लगातार अपने आपत्तिजनक ट्वीट से धर्म को लेकर कई बॉलीवुड सेलेब्स आहत हुए हैं। बता दें कि, याचिकाकर्ता जब बांद्रा पुलिस स्टेशन कंगना के खिलाफ एफआईआर लिखवाने गए तो पुलिसकर्मियों ने रिपोर्ट लिखने से साफ मना कर दिया जिसके बाद बांद्रा कोर्ट का दरवाजा खटखटाया गया।

इस मामले में कास्टिंग डायरेक्टर साहिल सैय्यद ने कहा, ‘मैं इस इंडस्ट्री में पिछले एक दशक से काम कर रहा हूं। मैंने इस तरह की सांप्रदायिक नफरत पहले कभी नहीं देखी। जब मैं किसी काम के लिए जाता हूं और अपना नाम साहिल बताता हूं तब तक तो सब कुछ ठीक होता है। लेकिन जैसे ही मैं अपना पूरा नाम साहिल सैय्यद बताता हूं सब चीजें बदल जाती हैं और कहा जाता है कि आप बाद में आएं। ऐसी हालत है।’

साहिल आगे कहते हैं, ऐसा कभी नहीं हुआ। यह सब कुछ कंगना रनौती के ट्वीट और मीडिया के कुछ हिस्सों में चलने वाले उनके बयान की वजह से हो रहा है। उन्होंने बहुत साम्प्रदायिक नफरत पैदा की है। पिछले दो महीनों से इंडस्ट्री में काम करना बहुत मुश्किल हो गया है। इसलिए मैंने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। महाराष्ट्र सरकार और मुंबई के खिलाफ उनका बयान भी बहुत गलत है। उन्होंने मुंबई से सब कुछ कमाया है और अब वह मुंबई को बदनाम कर रही हैं।

साहिल कहते हैं, ‘शुरू में हमने बांद्रा पुलिस थाने का दरवाजा खटखटाया, लेकिन उन्होंने हमारी शिकायत पर कार्रवाई नहीं की। हमने बांद्रा जोनल डीसीपी से भी संपर्क किया, लेकिन उन्होंने भी कुछ नहीं किया। इसलिए आखिरकार हमने बांद्रा अदालत में शिकायत दर्ज की और आज हमारे पास आदेश है। अदालत ने बांद्रा पुलिस को कंगना के खिलाफ IPC की धारा 295 (ए) 153 (ए) 124 (ए) के तहत एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं। सभी मामले गैर जमानती हैं। हमें मामले में तत्काल कार्रवाई की उम्मीद है।

यह भी पढ़े- पत्नी और दो बच्चों के साथ शख्स ने आग लगाकर की आत्महत्या, आर्थिक तंगी से थे परेशान